मोदी ने कोलकाता को 'सिटी ऑफ फ्यूचर' बनाने का वादा किया

मोदी ने कोलकाता को 'सिटी ऑफ फ्यूचर' बनाने का वादा किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल चुनाव के दौरान शुक्रवार को वर्चुअल रैली को संबोधित किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल चुनाव के दौरान शुक्रवार को वर्चुअल रैली को संबोधित किया। वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सूरी, मालदा, बरहामपुर और भवानीपुर में राजनीतिक रैलियों में मतदाताओं को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने यह वादा किया कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सरकार बनने के बाद कोलकाता को सिटी ऑफ फ्यूचर यानी भविष्य के शहर के रूप में विकसित किया जाएगा।

इसके लिए उन्होंने प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल पर भी जोर दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने आभासी संबोधन की शुरुआत में कहा, देश में कोविड-19 की स्थिति के कारण, मैं आज सुबह से ही महत्वपूर्ण बैठकों में व्यस्त हूं। मैं अब आपके साथ प्रौद्योगिकी के माध्यम से जुड़ रहा हूं। यह (भाजपा सरकार) कोलकाता शहर को भविष्य के शहर के रूप में परिवर्तित करने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग करेगी।

उन्होंने कहा, हम शहर में एक वैश्विक निर्यात केंद्र विकसित करने के लिए अपना पूरा प्रयास करेंगे।

यह स्पष्ट करते हुए कि पश्चिम बंगाल में चुनाव राजनीतिक परिवर्तन से भी बड़ा है, मोदी ने कहा, "पश्चिम बंगाल चुनाव सिर्फ सरकार में बदलाव के लिए नहीं हैं, मैं इन चुनावों में एक आकांक्षात्मक और आशावादी पश्चिम बंगाल के उदय को देख सकता हूं।"

मोदी ने कहा कि पश्चिम बंगाल उस शासन की प्रतीक्षा कर रहा है, जहां हर सरकारी विभाग ईमानदारी के साथ काम करे और अपना कर्तव्य निभाए।

प्रधानमंत्री ने दावा किया कि पश्चिम बंगाल विधानसभा का चुनाव सिर्फ सत्ता बदलने के लिए नहीं हैं, बल्कि उसे एक आकांक्षी और एक आशावादी राज्य के रूप में विकसित करने का है। मोदी ने कहा कि "गांव हो या शहर हर जगह बेहतर जीवन, बेहतर शिक्षा, बेहतर रोजगार, बेहतर विकल्प के लिए एक तड़प देख रहा हूं।"

उन्होंने दावा किया कि भाजपा की डबल इंजन की सरकार इसमें कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी। प्रधानमंत्री ने दावा किया कि पश्चिम बंगाल विधानसभा का चुनाव सिर्फ सत्ता बदलने के लिए नहीं हैं, बल्कि उसे एक आकांक्षी और एक आशावादी राज्य के रूप में विकसित करने का है। "गांव हो या शहर हर जगह बेहतर जीवन, बेहतर शिक्षा, बेहतर रोजगार, बेहतर विकल्प के लिए एक तड़प देख रहा हूं।"

मोदी ने बंगाल की जनता से कोविड-19 से बचाव संबंधी सभी उपायों का गंभीरता से पालन करने का अनुरोध किया और कहा कि अस्पतालों पर आज के दिन जो भारी दबाव है उसे अपनी सावधानी से काम करना है। वैज्ञानिक और चिकित्सीय सलाह पर ही हमें आगे बढ़ना है। एकजुट होकर इस लड़ाई को लड़ना है। टीके के दौरान भी और टीके के बाद भी हमें मास्क से अपने मुंह को ढंक कर रखना है। साथ ही दवाई भी और कड़ाई भी के मंत्र को याद रखना है।

प्रधानमंत्री ने महिला सशक्तीकरण पर भी जोर दिया और कहा कि एक बार भाजपा सरकार सत्ता में आने के बाद वह महिलाओं के लिए फास्ट ट्रैक कोर्ट विकसित करने के लिए तत्काल कदम उठाएगी, ताकि उन्हें थोड़े समय के भीतर न्याय मिल सके।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news