नासा के मार्स हेलिकॉप्टर की लॉन्चिंग में देरी, 11 अप्रैल को भरेगा उड़ान

नासा के मार्स हेलिकॉप्टर की लॉन्चिंग में देरी, 11 अप्रैल को भरेगा उड़ान

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह पर भेजे गए पर्सिवियरेंस रोवर के साथ इंजिन्यूटी नाम का एक छोटा हेलिकॉप्टर भेजा है, जो अब 11 अप्रैल को ऐतिहासिक उड़ान भरेगा।

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह पर भेजे गए पर्सिवियरेंस रोवर के साथ इंजिन्यूटी नाम का एक छोटा हेलिकॉप्टर भेजा है, जो अब 11 अप्रैल को ऐतिहासिक उड़ान भरेगा। हालांकि इससे पहले इसके 8 अप्रैल को लॉन्च किए जाने की उम्मीद जताई गई थी, मगर अब गुरुवार को की गई घोषणा में पता चला है कि यह 11 अप्रैल को लॉन्च किया जाएगा। कैलिफोर्निया के पासाडेना में नासा की जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी (जेपीएल) की ओर से गुरुवार को यह घोषणा की गई।

नासा जेपीएल ने ट्वीट करते हुए कहा, "आओ हमारे साथ उड़ान भरो। मार्स हेलिकॉप्टर ऐसा कुछ करने की तैयारी कर रहा है, जो कभी नहीं किया गया है: किसी दूसरे ग्रह पर नियंत्रित, संचालित उड़ान।"

एजेंसी ने अपने ट्वीट में यह भी कहा कि इस हेलिकॉप्टर के 11 अप्रैल से पहले उड़ान भरने की संभावना नहीं है। इस उड़ान का डेटा 12 अप्रैल को आ जाएगा।

मंगल पर नियंत्रित तरीके से उड़ान भरना पृथ्वी पर उड़ान भरने से कहीं अधिक कठिन है।

नासा अगर अपने मिशन में सफल हो जाता है तो धरती के बाहर दूसरे ग्रह पर किसी हेलिकॉप्टर की यह पहली उड़ान होगी। यही वजह है कि इसे ऐतिहासिक उड़ान माना जा रहा है।

हेलिकॉप्टर की मदद से मंगल ग्रह के अनछुए पहलुओं का पता लगाया जाएगा। नासा ने इससे पहले इसकी तस्वीर भी जारी की थी।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news