गाजा पट्टी में मरने वालों की संख्या 181 पहुंची

गाजा पट्टी में इजरायल और फिलिस्तीनी आतंकवादी समूहों के बीच तनाव लगातार सातवें दिन भी जारी है। इसके साथ ही कोस्टल इनक्लेव इलाके में मरने वालों की संख्या बढ़कर 181 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।
गाजा पट्टी में मरने वालों की संख्या 181 पहुंची

गाजा पट्टी में इजरायल और फिलिस्तीनी आतंकवादी समूहों के बीच तनाव लगातार सातवें दिन भी जारी है। इसके साथ ही कोस्टल इनक्लेव इलाके में मरने वालों की संख्या बढ़कर 181 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, गाजा में हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को एक बयान में कहा कि 10 मई को तनाव शुरू होने के बाद से 181 फिलिस्तीनी मारे गए हैं, जिनमें 52 बच्चे और 31 महिलाएं शामिल हैं। इस हमले में 1,225 अन्य लोग घायल हुए हैं।

फिलिस्तीनी इस्लामिक प्रतिरोध आंदोलन (हमास) के सशस्त्र विंग के नेतृत्व में उग्रवादी समूहों ने मध्य और दक्षिणी इजराइल के शहरों और कस्बों में गाजा पट्टी से रॉकेटों के बैराज दागे।

सुरक्षा सूत्रों के अनुसार, इजरायली लड़ाकू विमानों ने इमारतों, सैन्य चौकियों और आतंकवादियों से संबद्ध सुविधाओं पर अपने हवाई हमले तेज कर दिए हैं।

सूत्रों ने कहा कि गाजा पट्टी में हमास प्रमुख येह्या सिनवार और उनके भाई के घर दक्षिणी शहर खान यूनिस पर किए गए गहन इजरायली हवाई हमले में नष्ट हो गए। हालंकि बताया जा रहा है कि किसी के घायल होने की सूचना नहीं मिली है।

गाजा में स्वास्थ्य निनिस्ट्री के प्रवक्ता अशरफ अल-केदरा ने संवाददाताओं से कहा कि शनिवार देर रात और रविवार की सुबह गाजा पर हवाई हमले में 23 फिलिस्तीनी मारे गए और 50 से अधिक घायल हो गए।

इजरायली सेना के एक प्रवक्ता ने कहा कि पिछले 24 घंटों में लड़ाकू विमानों ने सिनवार और उसके भाई मोहम्मद के घरों सहित गाजा में हमास और इस्लामिक जिहाद के 90 ठिकानों को निशाना बनाया।

प्रवक्ता ने कहा कि गाजा के आतंकवादियों ने इजराइल की ओर 120 से अधिक रॉकेट दागे। प्रवक्ता ने दावा किया कि आयरन डोम एयर डिफेंस सिस्टम ने उनमें से अधिकांश को रोक दिया है।

इजराइल की सेना के अनुसार, 10 मई से अब तक हमास द्वारा 2,300 से अधिक बार गोलीबारी की जा चुकी है।

इजराइल ने तब से हवाई हमले और तोपखाने की गोलाबारी का जवाब दिया है, जिसमें 650 से अधिक बार जबावी हमले किए हैं।

इजराइल के मैगन डेविड एडोम बचाव सेवा के अनुसार, रॉकेट आग के परिणामस्वरूप यहूदी राज्य में 10 लोग मारे गए और 636 घायल हो गए।

इस बीच, फिलिस्तीनी सूत्रों ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच मानवीय संघर्ष विराम तक पहुंचने के लिए क्षेत्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रयास किए जा रहे हैं।

सूत्रों ने सिन्हुआ को बताया कि मिस्र दोनों पक्षों पर अस्थायी मानवीय संघर्ष विराम घोषित करने के लिए दबाव बनाने की कोशिश कर रहा है ताकि स्थायी संघर्ष विराम तक गाजा में नुकसान को कम किया जा सके।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news