पीएम मोदी ने तटीय राज्यों में चक्रवाती तूफान के खतरे को रोकने के लिए बनाई रणनीति

भारत मौसम विज्ञान विभाग की ओर से 'तौकते' नामक चक्रवाती तूफान को लेकर जारी अलर्ट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उच्चस्तरीय बैठक लेकर सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं।
पीएम मोदी ने तटीय राज्यों में चक्रवाती तूफान के खतरे को रोकने के लिए बनाई रणनीति

भारत मौसम विज्ञान विभाग की ओर से 'तौकते' नामक चक्रवाती तूफान को लेकर जारी अलर्ट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उच्चस्तरीय बैठक लेकर सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं।

लक्षद्वीप द्वीप समूह और अरब सागर के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने की वजह से शक्तिशाली चक्रवाती तूफान के गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा और केरल आदि राज्यों के तटों से टकराने की आशंका है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि गुजरात के पोरबंदर तट पर 18 मई को दोपहर 175 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तूफान टकरा सकता है। गुजरात के तटीय जिलों में भारी वर्षा हो सकती है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग 13 मई से लगातार बुलेटिन जारी कर रहा है संबंधित राज्यों को। कैबिनेट सेक्रेटरी सभी तटीय राज्यों के मुख्य सचिव और संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों के संपर्क में बने हुए हैं। गृहमंत्रालय लगातार 24 घंटे हालात की निगरानी कर रहा है और राज्यों के संपर्क में है।

एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीमों को एक्टिव कर दिया गया है। इंडियन कोस्ट गार्ड और नेवी को शिप और हेलीकॉप्टर पर निगरानी के लिए लगाया गया है। एयरफोर्स, आर्मी की इंजीनियर टास्क फोर्स को भी तैयार रखा गया है। लोगों को खतरे वाली जगहों से बाहर निकालने पर जोर दिया गया। प्रधानमंत्री ने बिजली, संचार, स्वास्त्य, पेयजल आदि सुविधाओं पर नजर रखने को कहा।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news