Russia-Ukraine War: जेलेंस्की के बाद पीएम मोदी ने की राष्ट्रपति पुतिन से बात, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

पीएम मोदी ने इस बातचीत के दौरान पुतिन से जेलेंस्की से बात करने का आग्रह किया। पीएम मोदी ने सूमी सहित यूक्रेन के कुछ हिस्सों में संघर्ष विराम की घोषणा और मानवीय गलियारे बनाने के कदम की सराहना की
Russia-Ukraine War: जेलेंस्की के बाद पीएम मोदी ने की राष्ट्रपति पुतिन से बात, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के बाद पीएम मोदी ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत की है। दोनों नेताओं के बीच करीब 50 मिनट तक बातचीत हुई। मोदी और पुतिन ने यूक्रेन के ताजा हालात पर बातचीत की। राष्ट्रपति पुतिन ने यूक्रेन और रूसी टीमों के बीच वार्ता की स्थिति के बारे में पीएम मोदी को जानकारी दी।

जेलेंस्की से बातचीत का आग्रह

पीएम मोदी ने इस बातचीत के दौरान पुतिन से जेलेंस्की से बात करने का आग्रह किया। पीएम मोदी ने सूमी सहित यूक्रेन के कुछ हिस्सों में संघर्ष विराम की घोषणा और मानवीय गलियारे बनाने के कदम की सराहना की।

मोदी ने सूमी से भारतीय नागरिकों को जल्द से जल्द सुरक्षित निकालने पर भी जोर दिया। वहीं, राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी को भारतीय नागरिकों की सुरक्षित निकासी में हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया।

प्रधानमंत्री मोदी ने सूमी से भारतीय नागरिकों को जल्द से जल्द सुरक्षित निकालने के महत्व पर जोर दिया। राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी को उनकी सुरक्षित निकासी में हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया: भारत सरकार के सूत्र

बता दें कि इससे पहले सोमवार को पीएम मोदी ने यूक्रेन के राष्ट्रपति से फोन पर बातचीत की थी। भारत सरकार के सूत्रों के मुताबिक, पीएम मोदी ने जेलेंस्की से फोन पर बातचीत की है। दोनों नेताओं के बीच करीब 35 मिनट तक बातचीत हुई। दोनों नेताओं ने यूक्रेन में स्थिति पर चर्चा की। प्रधानमंत्री ने रूस और यूक्रेन के बीच जारी सीधी बातचीत की सराहना की।

साथ ही मोदी ने यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने में यूक्रेन सरकार द्वारा दी गई सहायता के लिए राष्ट्रपति जेलेंस्की को धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने सूमी से भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए जारी प्रयासों में यूक्रेन सरकार से निरंतर समर्थन मांगा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने में यूक्रेन सरकार द्वारा दी गई सहायता के लिए राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की को धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने सूमी से भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए जारी प्रयासों में यूक्रेन सरकार से निरंतर समर्थन मांगा: भारत सरकार के सूत्र

गौरतलब है कि रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन के शहरों पर हमला बोला था। रूस अब तक यूक्रेन के कई शहरों को तबाह कर चुका है। युद्ध के चलते यूक्रेन के लाखों लोग अन्य देशों में शरण ले चुके हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की, पीएम मोदी से युद्ध को लेकर रूस के बातचीत करने का आग्रह भी कर चुके हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news