संसदीय क्षेत्र वाराणसी को 614 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम मोदी
ताज़ातरीन

संसदीय क्षेत्र वाराणसी को 614 करोड़ की परियोजनाओं की सौगात देंगे पीएम मोदी

PM नरेंद्र मोदी सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में नई परियोजनाओं की नींव रखेंगे और अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। कार्यक्रम जिले में छह स्थानों पर आयोजित किया जाएगा, CM योगी आदित्यनाथ लखनऊ से इसमें शामिल होंगे।

Yoyocial News

Yoyocial News

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वाराणसी में विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करेंगे। सुबह साढ़े दस बजे वर्चुअल माध्यम से लगभग 614 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की वह काशीवासियों को सौगात देंगे। प्रधानमंत्री इस दौरान परियोजनाओं के लाभार्थियों के साथ बातचीत भी करेंगे। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उपस्थित रहेंगे। जिन परियोजनाओं का उद्घाटन किया जायेगा, उनमें सारनाथ लाइट एंड साउंड शो, लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल रामनगर का उन्नयन, सीवरेज संबंधित कार्य, गायों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए बुनियादी ढांचागत सुविधाओं का प्रबंध, बहुउद्देशीय बीज भंडार गृह, 100 मीट्रिक टन कृषि उपज क्षमता वाले गोदाम, आईपीडीएस चरण-2, संपूर्णानंद स्टेडियम में खिलाड़ियों के लिये एक आवास, वाराणसी शहर के स्मार्ट लाइटिंग कार्य, 105 आंगनवाड़ी केंद्र और 102 गौ आश्रय केंद्र शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दशाश्वमेध घाट और खिड़किया घाट का पुनर्विकास, पीएसी पुलिस बल के लिए बैरक, काशी के कुछ वाडरें का पुनर्विकास, बनिया बाग में पार्क के पुनर्विकास के साथ पार्किं ग सुविधा, गिरिजा देवी संस्कृत शंकुल में बहुउद्देश्यीय हॉल के उन्नयन सहित शहर में सड़कों की मरम्मत और पर्यटन स्थलों के विकास परियोजनाओं का शिलान्यास भी करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में नई परियोजनाओं की नींव रखेंगे और अन्य परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे। कल यानी सोमवार को सुबह 10.30 बजे शुरू होने वाला प्रधानमंत्री का कार्यक्रम जिले में छह स्थानों पर आयोजित किया जाएगा, वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ से इसमें शामिल होंगे।

डिविजनल कमिशनर दीपक अग्रवाल के अनुसार, "पीएमओ ने 230 करोड़ रुपये की 19 तैयार परियोजनाओं के उद्घाटन को मंजूरी दी है, जबकि प्रधानमंत्री 465 करोड़ रुपये की 17 नई परियोजनाओं की नींव रखेंगे।"

अधिकारी ने आगे कहा, "जिला प्रशासन ने कुछ और तैयार नई परियोजनाओं की सूची पीएमओ को भेजी थी, लेकिन उनमें से कई को एमएलसी (शिक्षकों के निर्वाचन क्षेत्र) चुनाव के कारण लागू आदर्श आचार संहिता के मद्देनजर अंतिम सूची से बाहर रखा गया था।"

कमिशनर ने आगे कहा, "दीन दयाल उपाध्याय ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर, सर्किट हाउस, आयुक्त सभागार, दशाश्वमेध घाट, शूलांकेश्वर और हवाई अड्डे पर स्थापित होने वाले छह बड़े एलईडी स्क्रीन पर वर्चुअल उद्घाटन और शिलान्यास समारोह की मेजबानी की जाएगी।"

कार्यक्रम आयोजित होने वाले छह स्थलों में से प्रत्येक में एक राज्य मंत्री और संबंधित क्षेत्र के विधायक मौजूद रहेंगे।

इन परियोजनाओं में वाराणसी का लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भी शामिल है, जिसमें और दो यात्री बोर्डिग ब्रिज (पीपीबी) होंगे, जिन्हें आमतौर पर एयरो-ब्रिज के रूप में जाना जाता है।

हवाई अड्डे के एक प्रवक्ता ने कहा कि वर्तमान में 2 पीबीबी हवाई अड्डे पर मौजूद हैं, जबकि उद्घाटन के बाद पीबीबी की कुल संख्या चार हो जाएगी। इससे यात्रियों को बोर्डिग या एलाईटिंग के लिए एक बार में चार उड़ानों को संचालित करने में मदद मिलेगी।

इन दोनों नए पीबीबी को कुल 9 करोड़ रुपये की लागत से स्थापित किया गया है। नए पीबीबी की स्थापना से उनके लिए पैदल दूरी कम करने के अलावा यात्रियों की सुरक्षा बढ़ेगी।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news