लखनऊ: बिजली के मीटरों से छेड़छाड़ करने वाला गिरोह को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पैसे के लिए बिजली मीटरों में छेड़छाड़ करने वाले एक गिरोह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने अनजाने में लखनऊ विद्युत आपूर्ति प्रशासन (एलईएसए) के एक कार्यकारी अभियंता को फोन किया और अपनी सेवाएं देने की पेशकश की थी।
लखनऊ: बिजली के मीटरों से छेड़छाड़ करने वाला गिरोह को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पैसे के लिए बिजली मीटरों में छेड़छाड़ करने वाले एक गिरोह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों ने अनजाने में लखनऊ विद्युत आपूर्ति प्रशासन (एलईएसए) के एक कार्यकारी अभियंता को फोन किया और अपनी सेवाएं देने की पेशकश की थी।

कार्यकारी अभियंता अरविंद सिंह को एक कॉल आया, जिसमें कॉल करने वाले ने एक प्रस्ताव दिया कि अगर वह 5,000 रुपये नकद देता है, तो उसका मीटर कम रीडिंग दिखाएगा और उसका मासिक बिल भी कम आएगा।

अरविंद ने फोन करने वाले को अपने आवास पर जाने का लालच दिया, जहां लखनऊ विद्युत आपूर्ति प्रशासन (एलईएसए), ट्रांस-गोमती की एक टीम, कार्यकारी अभियंता इंदिरानगर, घनश्याम के नेतृत्व में प्रतीक्षा कर रही थी।

फोन करने वाले प्रशांत गुुप्ता जैसे ही अपने सहयोगी दीपक कुमार मौर्य के साथ वहां पहुंचे, टीम ने दोनों को पकड़ लिया और एक कंपनी का आईडी कार्ड, मीटर सीलिंग बिलिंग बुक, पॉलीकाबोर्नेट मीटर सील और दो स्मार्टफोन बरामद किए, जिनमें मीटर से छेड़छाड़ के वीडियो थे।

प्रशांत एक फर्म के पूर्व संविदा कर्मचारी हैं, जिन्हें 2020 में लखनऊ में 28,000 स्मार्ट मीटर लगाने के लिए काम पर रखा गया था।

प्राथमिकी के अनुसार, फर्म के प्रोजेक्ट मैनेजर जय भगवान पाल ने प्रशांत की पहचान एक पूर्व कर्मचारी के रूप में की, जिसने अपना आईडी कार्ड जमा नहीं किया था।

पाल ने कहा, प्रशांत और दीपक के पास से बरामद उपकरण कंपनी का नहीं है। प्रशांत हमारी फर्म में इलेक्ट्रीशियन का काम करता था और एक साल पहले कंपनी छोड़ चुका था।

मुख्य कार्यकारी अभियंता, लेसा (ट्रांस-गोमती, अनिल कुमार तिवारी ने कहा, मीटर से छेड़छाड़ एक गंभीर अपराध है और इससे डिस्कॉम को नुकसान होता है। हमें अभी यह पता लगाना है कि गिरोह में कितने लोग शामिल हैं। आरोपियों को पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news