पीएम मोदी की ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन से फोन पर हुई बातचीत, जलवायु परिवर्तन सहित कई अहम मुद्दों पर चर्चा की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ब्रिटेन के अपने समकक्ष बोरिस जॉनसन से फोन पर बात की और आगामी वार्षिक जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन सीओपी26 के संदर्भ में जलवायु परिवर्तन से जुड़े कई मुद्दों पर व्यापक चर्चा की।
पीएम मोदी की ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन से फोन पर हुई बातचीत, जलवायु परिवर्तन सहित कई अहम मुद्दों पर चर्चा की

जलवायु परिवर्तन अब दुनिया के समक्ष एक बड़ी चुनौती बन गया है, जिसका मानवजाति के लिए त्वरित समाधान निकालना बेहद महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ब्रिटेन के अपने समकक्ष बोरिस जॉनसन से फोन पर बात की और आगामी वार्षिक जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन सीओपी26 के संदर्भ में जलवायु परिवर्तन से जुड़े कई मुद्दों पर व्यापक चर्चा की।
दोनों नेताओं ने ग्लासगो, स्कॉटलैंड में 31 अक्टूबर से 12 नवंबर के बीच होने वाली यूएनएफसीसीसी सीओपी-26 बैठक के संदर्भ में जलवायु परिवर्तन से संबंधित मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की।

पीएमओ की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, "प्रधानमंत्री ने जलवायु परिवर्तन से संबंधित कार्रवाई के प्रति भारत की वचनबद्धता से अवगत कराया, जोकि नवीकरणीय ऊर्जा के विस्तार से संबंधित इसके महत्वाकांक्षी लक्ष्य तथा हाल ही में घोषित राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन में स्पष्ट है।"

ब्रिटेन 31 अक्टूबर से ग्लासगो में संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन क्लाइमेट चेंज (यूएनएफसीसीसी) के जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा।

दोनों नेताओं ने इस वर्ष की शुरुआत में अपने आभासी शिखर सम्मेलन के बाद से द्विपक्षीय संबंधों में हुई प्रगति की समीक्षा की और आभासी शिखर सम्मेलन के दौरान अपनाए गए रोडमैप 2030 के तहत उठाए गए कदमों पर संतोष व्यक्त किया।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि उन्होंने संवर्धित व्यापार साझेदारी की प्रगति की भी समीक्षा की और दोनों देशों के बीच व्यापार एवं निवेश से जुड़े संबंधों में तेजी से विस्तार की संभावना पर सहमति व्यक्त की।

दोनों नेताओं ने क्षेत्रीय विकास, विशेष रूप से अफगानिस्तान की स्थिति के बारे में भी विचारों का आदान-प्रदान किया। इस संदर्भ में, वे उग्रवाद एवं आतंकवाद के साथ-साथ मानवाधिकारों और महिलाओं तथा अल्पसंख्यकों के अधिकारों से संबंधित मुद्दों पर एक साझा अंतर्राष्ट्रीय दृष्टिकोण विकसित करने की जरूरत पर सहमत हुए।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.