19 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी सशस्त्र बलों को सौंपेंगे हेलीकॉप्टर और ड्रोन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 नवंबर को झांसी में हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, स्वदेशी रूप से डिजाइन किए गए ड्रोन, उन्नत इलेक्ट्रॉनिक युद्ध सूट और अन्य सैन्य उपकरण सशस्त्र बलों को सौंपेंगे।
19 नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी सशस्त्र बलों को सौंपेंगे हेलीकॉप्टर और ड्रोन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 नवंबर को झांसी में हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर, स्वदेशी रूप से डिजाइन किए गए ड्रोन, उन्नत इलेक्ट्रॉनिक युद्ध सूट और अन्य सैन्य उपकरण सशस्त्र बलों को सौंपेंगे।

प्रधानमंत्री यूपी डिफेंस कॉरिडोर में झांसी में शुरू होने वाली पहली परियोजना का भी अनावरण करेंगे। यहां 400 करोड़ रुपये की एंटी गाइडेड मिसाइलों के लिए प्रणोदन प्रणाली विकसित करने के लिए भारत डायनेमिक्स लिमिटेड के निर्माण की एक इकाई स्थापित की जाएगी।

हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर (एलसीएच) वायुसेना को, ड्रोन सेना को और उन्नत इलेक्ट्रॉनिक युद्ध सूट नौसेना को सौंपे जाएंगे। रक्षा अधिग्रहण परिषद ने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा निर्मित किए जाने वाले 40 ऐसे हेलीकॉप्टरों को मंजूरी दी थी।

एलसीएच एचएएल के हेलीकॉप्टर डिवीजन में एक नया अतिरिक्त है। यह दो इंजन वाला हेलीकॉप्टर 5-8 टन वर्ग का एक समर्पित लड़ाकू हेलीकॉप्टर है।

एलसीएच में प्रभावी लड़ाकू कर्रवाइयों के लिए उन्नत तकनीकों और अन्य सुविधाओं को शामिल किया गया है और इसे दुश्मन की वायु रक्षा, काउंटर विद्रोह, खोज और बचाव, टैंक-रोधी, काउंटर सरफेस फोर्स ऑपरेशन जैसी भूमिकाओं को पूरा करने के लिए डिजाइन किया गया है।

एलसीएच एकमात्र अटैक हेलीकॉप्टर है, जो हथियारों और ईंधन के काफी भार के साथ 5,000 मीटर (16,400 फीट) की ऊंचाई पर उतर और टेक-ऑफ कर सकती है।

पहल में 100 नए सैनिक स्कूलों की स्थापना, एनसीसी सीमा और तटीय योजना का शुभारंभ, एनसीसी पूर्व छात्र संघ और एनसीसी कैडेटों के लिए सिमुलेशन प्रशिक्षण का राष्ट्रीय कार्यक्रम भी शामिल है।

रक्षा मंत्रालय ने कहा कि शहीद नायकों को श्रद्धांजलि देने के लिए राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर डिजिटल कियोस्क और राष्ट्रीय युद्ध स्मारक मोबाइल ऐप भी लॉन्च किया जाएगा।

मंत्रालय ने कहा कि वे झांसी में 17-19 नवंबर, 2021 तक आयोजित किए जा रहे राष्ट्र रक्षा संबंध पर्व नामक समारोह में कई योजनाओं को औपचारिक रूप से राष्ट्र को समर्पित कर रहे हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news