महेश यादव का परिवार
महेश यादव का परिवार
ताजा तरीन

'जिन्हें नाज़ है हिन्द पर उनको लाओ, जिन्हें नाज़ है हिन्द पर वो कहाँ हैं'

जिस परिवार ने अपना बेटा देश पर कुर्बान कर दिया है। वो अपने हक के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अगले महीने से अनशन पर बैठने जा रहा है।

आदर्श श्रीवास्तव

आदर्श श्रीवास्तव

14 फरवरी 2019. जम्मू के पुलवामा में जवानों को ले जा रही बस पर आतंकवादी हमला होता है। इस हमले में देश अपने 40 जवानों को खो देता है। आज देश में पुलवामा हमले की बरसी मनाई जा रही है। शहीद हुए जवानों में उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले के महेश यादव भी थे। इनके पिता ने जब अपने बेटे की अर्थी को कंधा दिया तब कहा था- एक बेटे को खोने के बावजूद मैंं अपने छोटे बेटे और अपने पोतों को भी देश सेवा के लिए फौज में भेजूंगा।

जवानों की शहादत के बाद देश की सरकार ने शहीदों के परिवार के लिए कई घोषणाएं की। शहीद महेश यादव के परिवार को भी सरकार के मंत्री और विपक्षी नेताओं द्वारा हर तरह की मदद करने का आश्वासन दिया गया। जब तक मीडिया में पुलवामा हमले की खबर को प्रमुखता से दिखाया गया तब तक वो भी शहीद के परिवार के हितैशी बने रहें।

अब शहीद महेश यादव का परिवार अनशन पर बैठने जा रहा है। वजह ऐसी कि जिसे जान सरकार और सिस्टम के प्रति आपके अंदर नफरत की भावना उत्पन्न होगी। सरकार ने पुलवामा हमले के बाद शहीद महेश यादव के परिवार के एक सदस्य को नौकरी दिलाने, हाईवे से घर तक पक्की सड़क बनाने, घर के पास हैंडपंप लगवाने, बच्चों की मुफ्त पढ़ाई, पत्नी को पेंशन देने, डेढ़ एकड़ जमीन देने, शहीद जवान की मूर्ति लगवाने और किसी स्कूल कॉलेज का नाम शहीद के नाम पर किए जाने के वादे किए थे। लेकिन इन वादों में से सरकार एक भी वादा मुकम्मल नहीं कर पाई।

अब जिस परिवार ने अपना बेटा देश पर कुर्बान कर दिया है। वो अपने हक के लिए उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अगले महीने से अनशन पर बैठने जा रहा है। सीआरपीएफ की 118वीं बटालियन में कांस्टेबल महेश यादव अपने परिवार के इकलौते कमाऊ सदस्य थे और पूरे घर की जिम्मेदारी उन पर ही थी।

शहीद महेश यादव के परिजनों की ये कहानी सुन, साहिर लुधियानवी द्वारा फिल्म प्यासा में लिखे गए एक गाने की कुछ लाईने याद आती हैं.....

ज़रा मुल्क के रहबरों को बुलाओ

ये कुचे, ये गलियाँ, ये मंजर दिखाओ

जिन्हें नाज़ है हिन्द पर उनको लाओ

जिन्हें नाज़ है हिन्द पर वो कहाँ हैं

Keep up with what Is Happening!

Youthful and social news platform
www.yoyocial.news