डॉक्टर्स डे पर राहुल गांधी ने कहा- मुआवजा नहीं मिलने पर कोरोना योद्धाओं के लिए लिखूंगा चिट्ठी
ताज़ातरीन

डॉक्टर्स डे पर राहुल गांधी ने कहा- मुआवजा नहीं मिलने पर कोरोना योद्धाओं के लिए लिखूंगा चिट्ठी

राहुल ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में अब कोरोना टेस्टिंग भी बंद कर दी गई है। ऐसे में कैसे कोरोने से फाइट करेंगे। इस संवाद के दौरान राहुल गांधी के साथ भारत ही नहीं अन्य विदेशों में रह रहे लोगों ने भी कोरोना पर चर्चा की।

Yoyocial News

Yoyocial News

कोरोना संकट के बीच आज पूरे देश में डॉक्टर डे मनाया जा रहा है। इस बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को कई स्वास्थ्य कर्मियों से चर्चा की और उनके हालात को लेकर चर्चा की। चर्चा के दौरान डॉक्टरों ने कहा कि दिल्ली सरकार ने मुआवजा नहीं दिया। जिसके बाद राहुल गांधी ने कहा कि मैं चिट्ठी लिखूंगा। राहुल गांधी लगातार कोरोना को लेकर एक्सपर्ट से बातचीत कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने भारत समेत चार देशों में मौजूद भारतीय स्वास्थ्य कर्मियों से बात की। राहुल से बातचीत करने वाले नर्सों में लिवरपूल, इंग्लैंड से शर्ली, एम्स दिल्ली के विपिन, राजस्थान (फिलहाल ऑस्ट्रेलिया में) निवासी नरेंद्र और न्यूजीलैंड में काम कर रही अनु रंगत हैं।

बातचीत के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि हम आप सभी पर गर्व करते हैं। आप लोगों की वजह से ही हम आपने घरों में सुरक्षित हैं। राहुल ने आगे कहा कि इस दौरान आप कैसे काम कर रहे हैं। ये वक्त आप सभी के लिए मुश्किल होगा। इसी दौरान डॉक्टरों ने सरकार से मुआवजे की मांग की। जिसके बाद कहा कि मैं आपके लिए सरकार को चिट्ठी लिखूंगा।

वहीं, राहुल ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दिल्ली में अब कोरोना टेस्टिंग भी बंद कर दी गई है। ऐसे में कैसे कोरोने से फाइट करेंगे। इस संवाद के दौरान राहुल गांधी के साथ भारत ही नहीं अन्य विदेशों में रह रहे लोगों ने भी कोरोना पर चर्चा की।

गौरतलब है कि कोरोना संकट काल में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कई एक्सपर्ट से बात की है। फिर चाहे वो अर्थव्यवस्था के दिग्गज हो या फिर बिजनेसमैन, इसके अलावा दुनिया के कई बड़े मेडिकल एक्सपर्ट्स से भी राहुल गांधी चर्चा कर चुके हैं।

इससे पहले राहुल गांधी ने बुधवार सुबह ट्वीट किया 'डॉक्टर्स डे पर मैं उन समर्पित पेशेवरों का बहुत आभारी हूं, जो कोरोना वायरस के इस समय में उम्मीद जगाते हैं. आज सुबह 10 बजे, कोविड संकट के बारे में मेरे साथ 4 समर्पित नर्सों की बातचीत देखें और जानें कि हमें कैसे इस पर आगे काम करना है।'

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news