बारिश और बर्फबारी ने बढ़ाया जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में रात का तापमान

बारिश और बर्फबारी ने बढ़ाया जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में रात का तापमान

मैदानी इलाकों में मध्यम बर्फबारी और ऊंचे इलाकों में भारी बर्फबारी के बाद सोमवार को कश्मीर घाटी बर्फ की सफेद चादर से ढंक गई। मौसम कार्यालय ने कहा है कि अगले 24 घंटों यानि कि मंगलवार तक मौसम खराब रहने की संभावना है।

मैदानी इलाकों में मध्यम बर्फबारी और ऊंचे इलाकों में भारी बर्फबारी के बाद सोमवार को कश्मीर घाटी बर्फ की सफेद चादर से ढंक गई। मौसम कार्यालय ने कहा है कि अगले 24 घंटों यानि कि मंगलवार तक मौसम खराब रहने की संभावना है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा, "हालांकि अगले 24 घंटों के दौरान दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में भारी बर्फबारी की कोई संभावना नहीं है, लेकिन इस अवधि के दौरान दोनों क्षेत्रों में ऐसा ही मौसम बना रहेगा।"

बेनिहाल सेक्टर में भारी बर्फबारी के कारण श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग में यातायात बंद है। अधिकारियों ने यात्रियों को सलाह दी है कि वे राजमार्ग की ताजा स्थिति ट्रैफिक कंट्रोल रूम से जाने बिना यात्रा न करें।

घाटी के सभी जिलों में बर्फ हटाने वाली मशीनों को काम पर लगाया जा रहा है। स्थानीय लोग विशेषकर कश्मीर के ग्रामीण इलाकों के लोग बिजली की कटौती की शिकायत कर रहे हैं।

यहां भीषण ठंड वाली 40 दिनों की लंबी अवधि 'चिल्लई कलां' 31 जनवरी को खत्म होगी।

इस दौरान श्रीनगर में दिन का न्यूनतम तापमान माइनस 0.9, पहलगाम में माइनस 6.7 और गुलमर्ग में माइनस 5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

वहीं लद्दाख के लेह शहर का तापमान माइनस 14, कारगिल का माइनस 15 और द्रास का न्यूनतम तापमान माइनस 12.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

जम्मू शहर में न्यूनतम तापमान 12.2, कटरा में 9.4, बटोटे में 1.5, बेनिहाल में माइनस 0.2 और भद्रवाह में माइनस 0.5 डिग्री दर्ज किया गया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news