राजस्थान: किसानों ने दिल्ली-जयपुर हाईवे समेत कई राजमार्गो को किया जाम

राजस्थान: किसानों ने दिल्ली-जयपुर हाईवे समेत कई राजमार्गो को किया जाम

लगभग 12 बजे प्रदर्शन शुरू हुआ। जयपुर में सड़कों पर ट्रैफिक जाम करने के लिए ट्रैक्टरों का जमावड़ा किया गया, जबकि अलवर में सड़कों पर पत्थर व कंटीली झाड़ियां रखी गईं। कोटा में एक विशाल ट्रैक्टर रैली निकाली गई।

तीन नए कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग को लेकर, धरना-स्थल पर इंटरनेट बंद करने एवं अधिकारियों द्वारा कथित तौर पर परेशान किए जाने के खिलाफ किसानों ने शनिवार को 12 बजे से अपराह्न् तीन बजे तक तीन घंटों के लिए दिल्ली-जयपुर हाईवे समेत कई प्रमुख राजमार्गो पर यातायात अवरुद्ध किया।

गौरतलब है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार किसानों को अपना समर्थन दे रही है। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के आदेशानुसार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह दोतासरा ने शुक्रवार को चक्का जाम को पूरी तरह सफल बनाने के लिए सभी पदाधिकारियों को सहयोग करने का निर्देश दिया। इसके बाद बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता चक्का जाम करने के लिए सड़कों पर उतर आए।

लगभग 12 बजे प्रदर्शन शुरू हुआ। जयपुर में सड़कों पर ट्रैफिक जाम करने के लिए ट्रैक्टरों का जमावड़ा किया गया, जबकि अलवर में सड़कों पर पत्थर व कंटीली झाड़ियां रखी गईं। कोटा में एक विशाल ट्रैक्टर रैली निकाली गई।

दिल्ली-जयपुर राजमार्ग को पूरी तरह ब्लॉक कर दिया गया था। सुबह 11 बजे से ही शाहजहांपुर बॉर्डर (अलवर) से गुजरने वाली सड़क को बंद कर दिया गया था।

शुक्रवार को दौसा में किसान महापंचायत करने वाले पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट चक्का जाम करने उतरे किसानों को संबोधित करने के लिए आज भारापुर पहुंचे। राजस्थान में किसानों के चक्का जाम को सफल बनाने के लिए कई संगठनों ने अपना समर्थन दिया। वकीलों का एक 50-सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल श्रीगंगानगर स्थित धरना-स्थल पर पहुंचा और लंगर के लिए 80,000 रुपये दान किया।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news