'कर्तव्‍य पथ' के नाम से जाना जाएगा दिल्‍ली का ऐतिहासिक राजपथ, मोदी सरकार जल्‍द ले सकती है फैसला

सूत्रों की मानें तो 7 सितंबर को एनडीएमसी (NDMC) की एक अहम बैठक होने वाली है. माना जा रहा है कि इस मीटिंग में ही सरकार के इस फैसले पर मुहर लगा दी जाएगी.
'कर्तव्‍य पथ' के नाम से जाना जाएगा दिल्‍ली का ऐतिहासिक राजपथ, मोदी सरकार जल्‍द ले सकती है फैसला

केंद्र सरकार ने राजपथ का नाम बदलने का फैसला किया है. राजपथ का नाम अब कर्तव्य पथ (Kartavya Path) हो जाएगा. मोदी सरकार ने राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर कर्तव्य पथ करने का फैसला किया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने लाल किले की प्राचीर से गुलामी की हर चीज से मुक्त होने की बात कही थी. इसके बाद से राजपथ (Rajpath) का नाम बदलने को लेकर कयास लगाए जा रहे थे.

सूत्रों की मानें तो 7 सितंबर को एनडीएमसी (NDMC) की एक अहम बैठक होने वाली है. माना जा रहा है कि इस मीटिंग में ही सरकार के इस फैसले पर मुहर लगा दी जाएगी. प्रधानमंत्री मोदी ने 15 अगस्त के भाषण में कॉलोनियल मानसिकता से संबंधित प्रतीकों से मुक्ति पर जोर दिया था. इस दौरान पीएम ने 2047 तक कर्तव्यों के महत्व पर भी जोर दिया था. इन दोनों कारकों को 'कर्तव्य पथ' के नामकरण के पीछे देखा जा सकता है.

पहले बदला था रेसकोर्स रोड का नाम

सूत्रों के अनुसार ‘इंडिया गेट पर नेताजी की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन तक पूरा मार्ग और क्षेत्र कर्तव्य पथ के नाम से जाना जाएगा. ब्रिटिश काल में राजपथ को किंग्सवे कहा जाता था. सरकारी सूत्रों का कहना है कि ये शासक वर्ग के लिए भी एक संदेश है कि शासकों का युग समाप्त हो गया है. इससे पहले जिस सड़क पर पीएम आवास स्थित है, उसका नाम भी रेसकोर्स रोड से बदलकर लोक कल्याण मार्ग (Lok Kalyan Marg) कर दिया गया था.

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news