सुशांत गोल्फ़ सिटी में D1 ब्लाक के निवासी परेशान.! माँगेंगे SDM से मदद

रेसीडेंट वेलफयर असोसीएशन के समझाने पर भी दुबारा गेट नहीं बंद हो पाया, अंसल प्रबंधन का भी कहना है की यह गेट सिर्फ़ डी1 वालों के लिए है और उनकी सुरक्षा हमारा दायित्व है ।
सुशांत गोल्फ़ सिटी में D1 ब्लाक के निवासी परेशान.! माँगेंगे SDM से मदद

अंसल सुशांत गोल्फ़ सिटी के डी1 ब्लाक में एक शॉपिंग काम्प्लेक्स जो तीन तरफ़ से खुला है, यानी तीन तरफ़ से आने जाने का रास्ता है । मगर कुछ दबंग दुकानदारों ने कालोनी की तरफ़ खुलने वाले गेट का ताला भी बृहस्पतिवार को तोड़ दिया ।

रेसीडेंट वेलफयर असोसीएशन के समझाने पर भी दुबारा गेट नहीं बंद हो पाया, अंसल प्रबंधन का भी कहना है की यह गेट सिर्फ़ डी1 वालों के लिए है और उनकी सुरक्षा हमारा दायित्व है ।

अब यह मामला पुलिस और कोर्ट के समक्ष ले जाया जाएगा !

इस बीच रेसीडेंट असोसीएशन ने कोई भी क्षति या सुरक्षा में कमी होने पर अंसल प्रबंधन को ज़िम्मेदारी लेने को कहा है ।

रेसीडेंट असोसीएशन ने ये भी कहा की वो SDM से भी मिल कर कालोनी की विभिन्न समस्याओं का ज़िक्र करेंगे, क्यूँकि अभी यह कालोनी नगर निगम के पास नहीं है और रेसीडेंट के मेंट्नेन्स के पैसे से चलती है ।

लोकल नेता कोई झाँकने भी नहीं आया इसलिए रेसीडेंट आगामी राज्यसभा चुनाव में नोटा का प्रयोग करने की सोच रहे हैं।

अंसल सुशांत गोल्फ़ सिटी 5000 लोगों के निकलने का रास्ता ही नहीं है ???

जो लोग भी इस कालोनी में रह रहे हैं वो या तो पहले सुल्तानपुर रोड जा कर शहीद पथ या अर्जुन गंज जाएँ या फिर मेदांता के सामने underpass से होते हुए टूटी फूटी 20 फ़ीट की रोड से जाएँ । सारे अख़बार इस बारे में लिख चुके हैं मगर ना ही प्रशासन ना ही NHAI जिनको एक underpass देना है के कान में जूँ रेंग रही है ।

पुलिस प्रशासन ने VIP मूव्मेंट के कारण बेस्ट प्राइस वाला बाहर निकलने का रास्ता वन वे कर दिया है और अपने आकाओं को ख़ुश कर दिया है ।

ऐसे में सब्ज़ी भाजी लेने, स्कूल, कॉलेज, ऑफ़िस जाना अपने आप में एक मुसीबत है ।

रेज़िडेंट वेलफएर असोसीएशन ने कहा है की बिल्डर जो भी यहाँ मकान बेच रहे हैं उनका दायित्व है कि कालोनी की ये कमी बता कर बेचें।

कालोनी में इस बार वोट माँगने आने वालों को रेज़िडेंट की इन समस्याओं का हल ढूंढ़ना पड़ेगा।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news