प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने पर अंतिम फैसला करेंगी सोनिया गांधी

किशोर ने हाल ही में तृणमूल कांग्रेस के साथ काम किया है और उन्हें पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में पार्टी की प्रचंड जीत का श्रेय दिया जाता है।
प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने पर अंतिम फैसला करेंगी सोनिया गांधी

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को पार्टी में शामिल करने पर अंतिम फैसला करेंगी, क्योंकि कांग्रेस नेता इस मुद्दे पर बंटे हुए हैं। पार्टी सूत्रों के मुताबिक सोनिया ने पहले ही परामर्श प्रक्रिया शुरू कर दी है।

किशोर ने हाल ही में तृणमूल कांग्रेस के साथ काम किया है और उन्हें पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में पार्टी की प्रचंड जीत का श्रेय दिया जाता है।

चूंकि किशोर चुनाव से संबंधित मुद्दों पर एक पूर्ण भूमिका और निर्णय लेने का अधिकार चाहते हैं, इसलिए पार्टी के नेता उम्मीदवारों के चयन पर एक व्यक्ति को खुली छूट देने के खिलाफ हैं।

दो चुनावी हार के बाद कांग्रेस सलाहकारों की तलाश में है। अनुभवी नेता अहमद पटेल के निधन के साथ, कांग्रेस ने पहले ही एक रणनीतिकार खो दिया है।

सूत्रों ने कहा कि किशोर ने कांग्रेस नेता और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से कई बार मुलाकात की और अगले साल होने वाले उत्तर प्रदेश सहित कई विधानसभा चुनावों से पहले पार्टी के पुनरुद्धार पर चर्चा की।

इन विचार-विमशरें में शामिल पार्टी नेताओं ने कहा कि राहुल ने अनौपचारिक रूप से कांग्रेस नेताओं के साथ योजना पर चर्चा की और किशोर के पार्टी में प्रवेश के लिए उनकी राय मांगी कि उन्हें पार्टी की चुनावी रणनीति के लिए किस हद तक जिम्मेदारी दी जा सकती है।

किशोर ने महासचिव प्रियंका गांधी और अंतरिम प्रमुख सोनिया गांधी से भी मुलाकात की है, उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व को एक योजना दी है और वरिष्ठ नेताओं के बीच बातचीत के बिंदुओं पर चर्चा की जा रही है।

किशोर के जल्द ही कांग्रेस में राजनीतिक रूप से उतरने की संभावना है।

सूत्रों ने कहा कि किशोर को चुनाव प्रबंधन के प्रभारी महासचिव के रूप में नियुक्त किया जा सकता है, लेकिन पार्टी के वरिष्ठों का कहना है कि चुनाव की एकमात्र जिम्मेदारी एक व्यक्ति को देना अच्छा विचार नहीं है क्योंकि किशोर पर समग्रता से भरोसा नहीं किया जा सकता है। हालांकि, कोई भी उनके पार्टी में शामिल होने के खिलाफ नहीं है।

कांग्रेस अगले साल उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और कुछ पूर्वोत्तर राज्यों में चुनाव की तैयारी कर रही है। किशोर ने हाल ही में तृणमूल कांग्रेस, द्रमुक और वाईएसआरसीपी के अभियानों को संभाला है ।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news