दक्षिण अफ्रीकी पुलिस ने जुलाई में अशांति फैलाने को लेकर 18 संदिग्धों को किया गिरफ्तार

दक्षिण अफ्रीका की पुलिस ने कहा कि उन्होंने पिछले महीने पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा की कैद के बाद भड़की अशांति के दौरान हिंसा भड़काने के आरोप में 18 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है।
दक्षिण अफ्रीकी पुलिस ने जुलाई में अशांति फैलाने को लेकर 18 संदिग्धों को किया गिरफ्तार

दक्षिण अफ्रीका की पुलिस ने कहा कि उन्होंने पिछले महीने पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा की कैद के बाद भड़की अशांति के दौरान हिंसा भड़काने के आरोप में 18 संदिग्धों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस प्रवक्ता कैटलेगो मोगले ने कहा, "अब तक, लगभग 18 संदिग्धों को पुलिस और प्राथमिकता अपराध जांच निदेशालय (डीपीसीआई) द्वारा गिरफ्तार किया गया है। कुछ पहले ही गौतेंग, फ्री स्टेट और क्वाजुलु-नटाल में विभिन्न अदालतों में पेश हो चुके हैं, अन्य को जमानत दे दी गई है और कइयों को हिरासत में भेज दिया गया है।"

उन्होंने कहा कि संदिग्धों में से एक, 36 वर्षीय जमास्वाजी जि़न्हले मजोजी ने लगभग 60,000 अनुयायियों के साथ 'स्फिथिफिथि इवैल्यूएटर' हैंडल के तहत एक ट्विटर अकाउंट बनाया, जहां उन्होंने लोगों को अपराध करने के लिए उकसाया।

मोगले ने कहा, "माजोजी पर आरोप है कि उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर प्रसारित सामग्री में सार्वजनिक हिंसा को उकसाया, जिसके परिणामस्वरूप क्वाजुलु-नटाल के पीटरमैरिट्सबर्ग में ब्रुकसाइड मॉल में लूटपाट और आगजनी हुई। मामले को 18 अक्टूबर, 2021 तक के लिए स्थगित कर दिया गया।"

एक और 35 वर्षीय संदिग्ध पीटरमैरिट्जबर्ग मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश हुआ।

जुलाई में हुई अशांति ने 337 लोगों की जान ले ली, जबकि 2,500 से अधिक लोगों को इस सिलसिले में गिरफ्तार किया गया है।

कभी रंगभेद के खिलाफ लड़ाई के लिए जाने जाने वाले जूमा को अदालत के आदेशों की अवहेलना करने के लिए एस्टकोर्ट सुधार केंद्र में 15 महीने की कैद हुई है।

उन्होंने न्यायिक आयोग के सामने गवाही नहीं दी जो 2009-2018 के बीच उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच कर रहा था।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news