दक्षिणी रेलवे ने केरल, तमिलनाडु को 1 हजार मिट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन भेजा

दक्षिण रेलवे ने देश में दूसरी लहर शुरू होने के बाद से 16 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए केरल और तमिलनाडु को 1,000 मीट्रिक टन से अधिक तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति की है।
दक्षिणी रेलवे ने केरल, तमिलनाडु को 1 हजार मिट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन भेजा

दक्षिण रेलवे ने देश में दूसरी लहर शुरू होने के बाद से 16 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के जरिए केरल और तमिलनाडु को 1,000 मीट्रिक टन से अधिक तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति की है।

रेलवे ने अब तक केरल को कुल 246.56 मीट्रिक टन तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (एलएमओ) वितरित किया है और 16 मई को वल्लारपदम कंटेनर टर्मिनल, कोच्चि में कलिंगनगर, ओडिशा में टाटा स्टील साइडिंग से 6 ऑक्सीजन कंटेनर (117.9 मीट्रिक टन) ले जाने वाली अपनी पहली लोड ऑक्सीजन एक्सप्रेस प्राप्त की है।

केरल के लिए दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस राउरकेला से 7 कंटेनरों में 128.66 मीट्रिक टन लेकर 22 मई, 2021 को 01.35 बजे वल्लारपदम कंटेनर टर्मिनल, कोच्चि पहुंची।

तमिलनाडु को अब तक 14 मई से 21 मई, 2021 तक 13 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों के माध्यम से कुल 770.16 मीट्रिक टन एलएमओ प्राप्त हुआ है।

राउरकेला से 3 लोडेड टैंकर (19.54 एमटी) के साथ सोलहवीं लोडेड ऑक्सीजन एक्सप्रेस शनिवार को कोयंबटूर के पास मदुकरई पहुंची।

राउरकेला से 4 कंटेनरों में 84.1 मीट्रिक टन के साथ भेजी गई 17वीं लोडेड ऑक्सीजन एक्सप्रेस के रविवार को टोंडियारपेट पहुंचने की उम्मीद है।

भारतीय रेलवे ने देश भर के विभिन्न राज्यों में 884 से अधिक टैंकरों में लगभग 14,500 मीट्रिक टन एलएमओ वितरित किया है। अब तक कुल 224 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों ने अपनी यात्रा पूरी की है और विभिन्न राज्यों को राहत मिली है।

ऑक्सीजन एक्सप्रेस अब हर दिन देश को 800 मीट्रिक टन से अधिक एलएमओ पहुंचा रही है।

रेलवे ने कहा कि उसने ऑक्सीजन आपूर्ति स्थानों के साथ विभिन्न मार्गों की मैपिंग की है और राज्यों की किसी भी उभरती जरूरत के लिए खुद को तैयार रखता है।

एलएमओ लाने के लिए राज्य भारतीय रेलवे को टैंकर प्रदान करते हैं।

Southern Railway has supplied more than 1,000 metric tons of liquid medical oxygen to Kerala and Tamil Nadu through 16 Oxygen Express trains since the second wave started in the country.

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news