रांची में Swiggy और Zomato ने शुरू की शराब की होम डिलीवरी
ताज़ातरीन

रांची में Swiggy और Zomato ने शुरू की शराब की होम डिलीवरी

स्विगी उपाध्यक्ष अनुज राठी ने कहा 'सुरक्षित और जवाबदेह तरीके से अल्कोहल की घरों तक आपूर्ति के जरिए हम खुदरा दुकानदारों के लिए अतिरिक्त कारोबार सृजित कर सकते हैं. साथ ही शराब की दुकानों पर भीड़-भाड़ की समस्या भी दूर होगी.'

By Yoyocial News

Published on :

कोरोना वायरस महामारी के चलते देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच शराब की दुकानें खोलने के आदेश दिए गए थे, मगर दुकान के बाहर लगी लोगों की लंबी कतारें और सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ती धज्जियां के मद्देनजर शराब की होम डिलीवरी के बात कही गई थी.

बता दें ऑनलाइन फूड डिलीवरी सर्विस कंपनी स्विगी और जोमैटो ने झारखंड की राजधानी रांची में शराब की होम डिलीवरी की शुरुआत कर दी है. दोनों कंपनियों ने गुरुवार को इसकी जानकारी दी. उन्होंने कहा कि वे दूसरे राज्यों में शराब के ऑनलाइन आर्डर पूरा करने और उसकी होम डिलीवरी के लिए संबंधित राज्य सरकारों से भी बातचीत कर रही है.

स्विगी ने एक बयान में कहा कि रांची में घरों तक शराब की आपूर्ति का काम शुरू हो गया है, राज्य के अन्य शहरों में एक सप्ताह के अंदर यह शुरू हो जाएगा. बयान के अनुसार कंपनी दूसरे राज्यों में ऑनलाइन आर्डर पूरा करने और उसकी होम डिलीवरी के लिए संबंधित राज्य सरकारों से बातचीत कर रही है. स्विगी ने कानून के अनुसार अल्कोहल की सुरक्षित आपूर्ति सुनिश्चित करने को लेकर कदम उठाए हैं. इसमें अनिवार्य रूप से उम्र और उपयोगकर्ता के सत्यापन के उपाय शामिल हैं.

स्विगी के उपाध्यक्ष (उत्पाद) अनुज राठी ने कहा 'सुरक्षित और जवाबदेह तरीके से अल्कोहल की घरों तक आपूर्ति के जरिए हम खुदरा दुकानदारों के लिए अतिरिक्त कारोबार सृजित कर सकते हैं. साथ ही शराब की दुकानों पर भीड़-भाड़ की समस्या भी दूर होगी और सोशल डिस्टेंसिंग रखने में भी मदद मिलेगी.'

वहीं, जोमैटो ने कहा कि गुरुवार को शराब की होम डिलीवरी रांची से शुरू होगी और झारखंड के 7 अन्य शहरों में कुछ ही दिन के अंदर इसका विस्तार कर लिया जाएगा. कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा 'उचित अनुमति और लाइसेंस के साथ, हम झारखंड में शराब की होम डिलिवरी शुरू कर रहे हैं. हमारा मानना है कि प्रौद्योगिकी आधारित होम डिलीवरी का समाधान शराब की जिम्मेदार खपत सुनिश्चित कर सकता है और इसके साथ ही एक विकल्प प्रदान करता है, जो सुरक्षित है और लोगों के बीच आवश्यक परस्पर दूरी को बढ़ावा देता है.'

उन्होंने कहा कि कंपनी के पास प्रौद्योगिकी और ढांचागत सुविधा है जिससे वह छोटे-छोटे गली-मोहल्ले भी सामानों की आपूर्ति कर सकती है. कंपनी किराना सामानों और कोविड-19 राहत उपायों का दायरा बढ़ाने जैसी पहल के लिए स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रही है. वहीं, बयान के अनुसार स्वीगी ने राज्य सरकारों के दिशानिर्देश के अनुसार लाइसेंस और अन्य जरूरी दस्तावाजों का सत्यापन करने के बाद अधिकृत खुदरा दुकानदारों के साथ गठजोड़ किया है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news