उत्तर प्रदेश: कर्जदारों से बचने के लिए अपने ही अपहरण का स्वांग रचा
ताज़ातरीन

उत्तर प्रदेश: कर्जदारों से बचने के लिए अपने ही अपहरण का स्वांग रचा

सुलेमान ने पुलिस को बताया कि वह पिछले आठ साल से महिला के साथ रिश्ते में था। उसने महिला के साथ रहने के लिए अपने अपहरण की योजना बनाई। इसके साथ ही उसके पास 12 लाख रुपये के कर्ज को चुकाने के लिए पैसे नहीं थे।

Yoyocial News

Yoyocial News

मैनपुरी के एक 32 वर्षीय विवाहित व्यक्ति ने अपने कर्ज को चुकाने से बचने के लिए खुद के अपहरण का नाटक किया। व्यक्ति को राजस्थान के भिवाड़ी से गिरफ्तार किया गया है। उसे गुरुवार को गिरफ्तार किया गया। साजिश का हिस्सा होने पर व्यक्ति के भाई, दोस्त और एक ड्राइवर को भी गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस के अनुसार, सुलेमान अल्वी भवन निर्माण सामग्री का व्यवसाय करता है।

बीते 21 सितंबर को व्यक्ति के भाई सद्दाम हुसैन ने मैनपुरी के दानहर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई कि सुलेमान का चार अज्ञात हमलावरों ने अपहरण कर लिया है और अपहरण तब हुआ जब वह अपनी बोलेरो में घर लौट रहा था।

प्राथमिकी आईपीसी की धारा 364 के तहत दर्ज की गई थी।

हालांकि, जांच से पता चला कि सद्दाम की कहानी तथ्यों से मेल नहीं खा रही थी। यह खुलासा हुआ कि सद्दाम अपने भाई की योजनाओं के बारे में जानता था और उसने फर्जी शिकायत दर्ज कराई थी।

पुलिस को यह भी पता चल गया कि सुलेमान भिवाड़ी में है। बताए गए पते पर पुलिस की एक टीम भेजी गई, जहां पाया गया कि सुलेमान अपने दो बच्चों व एक महिला के साथ रह रहा था।

सुलेमान ने पुलिस को बताया कि वह पिछले आठ साल से महिला के साथ रिश्ते में था। उसने महिला के साथ रहने के लिए अपने अपहरण की योजना बनाई। इसके साथ ही उसके पास 12 लाख रुपये के कर्ज को चुकाने के लिए पैसे नहीं थे।

वहीं सुलेमान को जब गिरफ्तार किया गया, तब वह नेपाल जाने की व्यवस्था कर रहा था।

फर्जी अपहरण मामले को सुलझाने के लिए पुलिस महानिरीक्षक (आगरा रेंज) ए. सतीश गणेश ने पुलिस टीम को 40,000 रुपये का इनाम दिया है।

मोबाइल पर और भी खबरें पाने के लिए Yoyocial.news का Whatsapp Group जॉइन करे।

https://chat.whatsapp.com/EXgXUHtksFZCVcYZcL1gEs

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news