नकली शाही वंशज बनकर कर्नाटक की महिलाओं को ठग रहा था चोर, साइबर क्राइम सेल ने किया गिरफ्तार

कर्नाटक पुलिस के साइबर क्राइम सेल व्हाइट फील्ड डिवीजन ने एक शातिर चोर को अपने शिकंजे में ले लिया है। उसने शादी का झांसा देकर तीन महिलाओं को धोखा दिया और मैसूर की शाही वंशज होने का दावा करते हुए उनसे करीब 40 लाख रुपये ठगे।
नकली शाही वंशज बनकर कर्नाटक की महिलाओं को ठग रहा था चोर, साइबर क्राइम सेल ने किया गिरफ्तार

कर्नाटक पुलिस के साइबर क्राइम सेल व्हाइट फील्ड डिवीजन ने एक शातिर चोर को अपने शिकंजे में ले लिया है। उसने शादी का झांसा देकर तीन महिलाओं को धोखा दिया और मैसूर की शाही वंशज होने का दावा करते हुए उनसे करीब 40 लाख रुपये ठगे।

मैसूर के रहने वाले मुट्टू के. उर्फ विनय के. उर्फ सिद्धार्थ राज उर्स उर्फ सैंडी को उसकी एक पीड़िता की शिकायत के बाद गिरफ्तार किया गया, जिसने आरोप लगाया था कि उसने उससे 19 लाख रुपये ठगे है। आगे की जांच से पता चला कि उसने दो और महिलाओं को धोखा दिया है। पुलिस को संदेह है कि ऐसी ही कई और भोली-भाली महिलाएं नकली शाही की शिकार हो चुकी हैं।

आरोपी ने लग्जरी होटलों की लॉबी से अपने शिकार को बुलाया और दावा किया कि वह एक यूएस टेक कंपनी के लिए काम करने वाला एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। उसने मैसूर शाही परिवार की विभिन्न वैवाहिक साइटों पर सिद्धार्थ राज उर्स के रूप में पंजीकरण कराया था। उसने मैसूर पैलेस के सामने छोटे बच्चों की कई तस्वीरें पोस्ट की थीं और उनमें से एक होने का दावा किया था।

मामले में शिकायतकर्ता से आरोपी ने शादी का वादा किया था। उसने मेडिकल इमरजेंसी का दावा करते हुए 3 लाख रुपये लिए और 5 लाख रुपये वापस कर दिए। विश्वास हासिल करने के बाद, उसने उससे 20 लाख रुपये मांगे और पीड़िता ने तुरंत 19 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए।

पुलिस का कहना है कि आरोपी स्कूल ड्रॉपआउट और ट्रैवल गाइड है। उसकी एक पांच साल की बेटी भी है। मामले में आगे की पड़ताल चल रही है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news