दिल्ली में कम होंगे टमाटर के दाम! किसान रेल से लाए जा रहे फल, सब्जी
ताज़ातरीन

दिल्ली में कम होंगे टमाटर के दाम! किसान रेल से लाए जा रहे फल, सब्जी

किसान रेल के जरिए आंध्रप्रदेश से ताजे फल और सब्जी आने से दिल्ली की मंडियों में सब्जियों की उपलब्धता बढ़ने पर कीमतों में नरमी आने की उम्मीद की जा रही है। खासतौर पर टमाटर जो बरसात के सीजन की शुरूआत से ही लाल हो गया है, उसके दाम में कमी आ सकती है।

Yoyocial News

Yoyocial News

किसान रेल के जरिए आंध्रप्रदेश से ताजे फल और सब्जी आने से देश की राजधानी दिल्ली की मंडियों में सब्जियों की उपलब्धता बढ़ने पर कीमतों में नरमी आने की उम्मीद की जा रही है। खासतौर पर टमाटर जो बरसात के सीजन की शुरूआत से ही लाल हो गया है, उसके दाम में कमी आ सकती है, क्योंकि आंध्रप्रदेश से आ रही किसान रेल पार्सल ट्रेन में सबसे ज्यादा टमाटर ही है। देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाकों में टमाटर का खुदरा भाव गुरुवार को 60-80 रुपये किलो था, जबकि आजादपुर मंडी में टमाटर का थोक भाव 12-56 रुपये प्रति किलो था। मंडी में तीन दिनों से टमाटर इसी भाव पर बिक रहा है।

मंडी में जुलाई से ही तमाम हरी सब्जियों समेत आलू, प्याज और टमाटर के दाम आसमान छू रहे हैं। गुरुवार को प्याज का थोक भाव 10 रुपये से 25 रुपये प्रति किलो और आलू का 12 रुपये से 51 रुपये प्रति किलो था। सामान्य क्वालिटी का आलू खुदरा में 50 रुपये प्रति किलो से ऊपर बिक रहा है, जबकि बेहतर क्वालिटी के आलू का खुदरा दाम काफी ज्यादा है, इसलिए सभी खुदरा दुकानों पर यह आलू उपलब्ध नहीं है।

चैंबर्स ऑफ आजादपुर फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स एसोसिएशन के प्रेसीडेंट एम. आर. कृपलानी कहते हैं कि, बरसात के सीजन में टमाटर समेत अन्य हरी सब्जियों की फसल नष्ट हो जाने के चलते आवक कमजोर है, जिससे कीमतों में तेजी है। टमाटर की आवक आजादपुर मंडी में गुरुवार को 298.6 टन थी, जबकि पिछले साल 10 सितंबर को 506.5 टन। कृपलानी ने आईएएनएस से बातचीत में कहा कि किसान रेल से टमाटर आने पर दाम कितना कम होगा, यह तो आने के बाद ही पता चलेगा, लेकिन उपलब्धता जब बढ़ेगी तो कीमतों में नरमी जरूर आएगी।

हालांकि मंडी के एक कारोबारी ने बताया कि इस समय टमाटर आंध्रप्रदेश से ही आ रहा है, इसलिए ट्रेन से आए या ट्रक से आवक तो उतनी ही रहेगी, इसलिए टमाटर के दाम में कोई ज्यादा फर्क पड़ने की उम्मीद नहीं है।

बागवानी उत्पादों के लिए चर्चित आंधप्रदेश प्रदेश के सबसे बड़े जिले अनंतपुर से टमाटर, मौसमी, केले, आम, पपीते और अन्य ताजे फल व सब्जियां लेकर रवाना हुई किसान रेल शुक्रवार को दिल्ली के आदर्शनगर पहुंचेगी। इसमें कुल 294.11 टन फल व सब्जियां हैं, जिनमें से सबसे ज्यादा टमाटर 183.81 टन है, जबकि केला 70 टन, पपीता 2 टन, मौसमी 26.5 टन, आम 2.8 टन और खरबूजा 9 टन है।

इस ट्रेन से सब्जी व फल लेकर आने वाले किसानों को सुविधा प्रदान करने के लिए आजादपुर मंडी में खास व्यवस्था की गई है। आजादपुर एपीएमसी (कृषि उपज विपणन समिति) के चेयरमैन आदिल अहमद ने आईएएनएस को बताया कि आंध्रप्रदेश से जो किसान आ रहे हैं उन्हें कोई कठिनाई नहीं हो इसके लिए मंडी में पूरा प्रबंध किया गया है।

मंडी में जुलाई से ही तमाम हरी सब्जियों समेत आलू, प्याज और टमाटर के दाम आसमान छू रहे हैं। गुरुवार को प्याज का थोक भाव 10 रुपये से 25 रुपये प्रति किलो और आलू का 12 रुपये से 51 रुपये प्रति किलो था। सामान्य क्वालिटी का आलू खुदरा में 50 रुपये प्रति किलो से ऊपर बिक रहा है, जबकि बेहतर क्वालिटी के आलू का खुदरा दाम काफी ज्यादा है, इसलिए सभी खुदरा दुकानों पर यह आलू उपलब्ध नहीं है।

दिल्ली-एनसीआर में रविवार को सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रतिकिलो)

आलू 50-55, फूलगोभी-150, बंदगोभी-60, टमाटर 60-80, प्याज 35-45, लौकी/घीया-60, भिंडी-60, खीरा-60, कद्दू-50, बैंगन-60, शिमला मिर्च-120, पालक-80, कच्चा पपीता-60, कच्चा केला-50, तोरई-60, करेला-60, परवल 80-100, लोबिया-80

जून में सब्जियों के खुदरा दाम (रुपये प्रति किलो)

आलू 20-25, गोभी 30-40, टमाटर 20-30, प्याज 20-25, लौकी/घीया-20,

भिंडी-20, खीरा-20, कद्दू 10-15, बैंगन-20, शिमला मिर्च-60, तोरई-20, करेला 15-20।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news