जयपुर के स्कूल में दो छात्र कोरोना पॉजिटिव, ऑफलाइन पढ़ाई हुई बंद

राजस्थान में शत-प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल खोलने की अनुमति दिए जाने के चौबीस घंटे बाद जयपुर के महाराजा सवाई मानसिंह स्कूल में पढ़ने वाले दो छात्र मंगलवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गए।
जयपुर के स्कूल में दो छात्र कोरोना पॉजिटिव, ऑफलाइन पढ़ाई हुई बंद

राजस्थान में शत-प्रतिशत क्षमता के साथ स्कूल खोलने की अनुमति दिए जाने के चौबीस घंटे बाद जयपुर के महाराजा सवाई मानसिंह स्कूल में पढ़ने वाले दो छात्र मंगलवार को कोविड-19 से संक्रमित पाए गए, जिसके बाद स्कूल प्रबंधन ने अगले चार दिनों के लिए ऑफलाइन पढ़ाई बंद कर दी है।

महाराजा सवाई मानसिंह स्कूल प्रबंधन समिति के एक सदस्य के अनुसार, तीसरी और छठी कक्षा में पढ़ने वाले एक भाई-बहन कोविड-19 से संक्रमित हो गए हैं। सोमवार शाम को संक्रमित बच्चों के परिजनों ने स्कूल प्रबंधन को सूचित किया कि वे कोविड -19 से संक्रमित हो गए हैं, जिसके बाद स्कूल प्रबंधन ने एहतियात के तौर पर अगले चार दिनों के लिए स्कूल बंद रखने का फैसला किया है।

उन्होंने कहा कि इस दौरान ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी ताकि स्कूल के अन्य बच्चे घर से ही पढ़ाई कर सकें।

इस बीच, छात्रों के कोविड -19 पॉजिटिव होने की रिपोर्ट के बाद बड़ा डर पैदा हो गया है।

एक अभिभावक पवन ने आईएएनएस को बताया कि राज्य सरकार ने जल्दबाजी में शत-प्रतिशत क्षमता वाले स्कूल खोलने का फैसला किया जो बिल्कुल गलत है।

उन्होंने कहा कि ऐसे समय में जब छोटे बच्चों के लिए टीके उपलब्ध नहीं हैं, स्कूल पूरी क्षमता से नहीं खोले जाने चाहिए।

राजस्थान अभिभावक एकता संघ के संयोजक मनीष विजयवर्गीय ने मांग की कि ऑनलाइन शिक्षा पर रोक न लगाई जाए। फिलहाल कोविड-19 का संक्रमण खत्म नहीं हुआ है। ऐसे में जब तक जमीनी स्तर पर संक्रमण का खात्मा नहीं हो जाता तब तक स्कूली बच्चों को ऑनलाइन मोड में ही पढ़ाई कराई जाए।


उन्होंने कहा, राज्य सरकार ने 100 फीसदी क्षमता वाले स्कूलों को खोलने का जल्दबाजी में फैसला लिया है। निजी स्कूलों को फायदा पहुंचाना गलत है। राजस्थान अभिभावक एकता संघ इसका कड़ा विरोध करता है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news