UP: कानपुर में फिर हुई अपहरण के बाद हत्या, परिजनों ने कहा पुलिसिया टालमटोल का नतीजा
ताज़ातरीन

UP: कानपुर में फिर हुई अपहरण के बाद हत्या, परिजनों ने कहा पुलिसिया टालमटोल का नतीजा

कानपुर में ही संजीत अपहरण हत्या कांड का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा कि कानपुर देहात में अपहरण के बाद एक शख्स की बेरहमी से हत्या कर दी गई. इस मामले में बदमाशों ने फिरौती में 20 लाख रूपये की मांग की थी.

Yoyocial News

Yoyocial News

उत्तर प्रदेश में अपराध कि घटनाएँ थमने का नाम नहीं ले रहीं. कानपुर में विकास दुबे द्वारा 8 पुलिसवालों की हत्या और फिर विकास और उसके कई साथियों के एनकाउंटर के बाद तो जैसे अपराधों खासकर अपहरण और हत्या की बाढ़ सी आ गई है. कानपुर, गोंडा और गोरखपुर में अपहरण और हत्या जैसी घटनाओं के बाद अब फिर कानपुर से ही अपहरण और हत्या का मामला सामने आया है.

मंगलवार को सूबे के अपर पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार जब गोरखपुर में बदमाशों की गिरफ्तारी सहित पुलिस की उपलब्धियां गिना रहे थे, ठीक उसी वक्त कानपुर देहात से आई अपहरण के बाद फिरौती के लिए हत्या की खबर ने पुलिस की भूमिका पर फिर सवाल खड़ा कर दिया. कानपुर में ही संजीत अपहरण हत्या कांड का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा कि कानपुर देहात में अपहरण के बाद एक शख्स की बेरहमी से हत्या कर दी गई. इस मामले में बदमाशों ने फिरौती में 20 लाख रूपये की मांग की थी. अपहरणकर्ताओं और पीड़ित परिवार की बातचीत का ऑडियो क्लिप भी वायरल हो गया था.

ताजा मामला कानपुर देहात के देवराहट थाना क्षेत्र का है, जहां 16 जुलाई की रात कान्हाखेड़ा गांव के पास भोगनीपुर से धर्मकांटे के कर्मचारी ब्रजेश पाल को अगवा कर लिया गया था. घरवालों ने उसे गांव और आस-पास के इलाके में तलाश किया लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला. घरवालों ने इस मामले में बार-बार शिकायत के बावजूद पुलिस पर टालमटोल करने, उलटा रिश्तेदारों पर ही मामला घुमा देने का आरोप लगाया है. अब इस शख्स की लाश एक कुएं से बरामद हुई है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news