yogi adityanath and narendra modi
yogi adityanath and narendra modi
ताज़ातरीन

UP: पीएम मोदी देंगे प्रवासी मजदूरों को रोजगार की सौगात, शुरू होगा 'आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान', खुद बाटेंगे नियुक्ति पत्र

यूपी सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए रोजगार के अवसर लेकर आ रही है. यूपी सरकार का दावा है कि राज्य में सरकार 1 करोड़ रोजगार देने जा रही है. आज सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस योजना की शुरुआत करेंगे.

Yoyocial News

Yoyocial News

यूपी सरकार प्रवासी मजदूरों के लिए शुक्रवार को रोजगार के अवसर लेकर आ रही है. यूपी सरकार का दावा है कि राज्य में सरकार 1 करोड़ रोजगार देने जा रही है. इस योजना को आत्मनिर्भर यूपी रोजगार अभियान का नाम दिया गया है. शुक्रवार यानि आज सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस योजना की शुरुआत करेंगे.

बता दें कि लॉकडाउन में जितनी औद्योगिक इकाइयां बंद थीं, उन सभी को 18 जून के बाद दोबारा चालू कराया गया है. इसमें कुल 7 लाख 8 हजार औद्योगिक इकाइयां हैं, जिसमें करीब 42 लाख कामगारों को समायोजित किया जाएगा.

सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव नवनीत सहगल ने बताया कि योगी सरकार अब तक का सबसे बड़ा रोजगार प्रबंधन का काम करने जा रही है, जिसमें कई लोगों को नौकरी की चिट्ठी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद देंगे.

नवनीत सहगल के मुताबिक 29 मई को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में जिन प्रमुख औद्योगिक संस्थाओं ने एक एमओयू पर हस्ताक्षर कर ये फैसला लिया था कि प्रवासी मजदूरों को बड़ी तादाद में रोजगार मुहैया कराएंगे. ये सभी संस्थाएं 11 लाख प्रवासी मजदूरों को रोजगार देने जा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन संस्थाओं की तरफ से 2 लाख प्रवासी कामगारों को नियुक्ति पत्र देंगे.

रिपोर्ट के मुताबिक निजी निर्माण कंपनियों की ओर से 1.25 लाख कामगारों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा. विश्वकर्मा श्रम सम्मान और ओडीओपी योजना के तहत 5000 कामगारों को टूल किट दी जाएगी, जिससे ये मजदूर स्वावलंबी होकर काम कर सकें.

देश का यह सबसे बड़ा रोजगार कार्यक्रम है, जिसे दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ऑनलाइन माध्यम से लाभार्थियों से मुखातिब होंगे. एक दिन में 1 करोड़ से ज्यादा लोगों को नौकरी और रोजगार देने वाली यह सबसे बड़ी संख्या होगी, जिसमें प्रवासी और स्थानीय लोग शामिल होंगे. इसमें दिल्ली से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऑनलाइन माध्यम से उत्तर प्रदेश के 6 जिलों के लाभार्थियों से बात भी करेंगे. जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ से इस कार्यक्रम के जरिये लाभार्थियों से बात करेंगे.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news