उत्तर प्रदेश: फिरोजाबाद में भाजपा नेता की हत्या, 3 आरोपी हिरासत में
ताज़ातरीन

उत्तर प्रदेश: फिरोजाबाद में भाजपा नेता की हत्या, 3 आरोपी हिरासत में

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में भाजपा नेता दयाशंकर की शुक्रवार देर रात गोलीमार कर हत्या कर दी गई। इस मामले मुख्य आरोपी समेत तीन लोग हिरासत में लिए गए हैं।

Yoyocial News

Yoyocial News

उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में भाजपा नेता दयाशंकर की शुक्रवार देर रात गोलीमार कर हत्या कर दी गई। इस मामले मुख्य आरोपी समेत तीन लोग हिरासत में लिए गए हैं।

पुलिस अधीक्षक सच्चिदानंद पटेल ने बताया कि फिरोजाबाद के नारखी थाना क्षेत्र के नगला बीच चौकी का मामला है। मृतक डीके गुप्ता अपनी दुकान बंद कर रहे थे। उसी बीच मोटर साइकिल सवार ने इन फायरिंग कर दी। गोली लगने के बाद परिवार वाले अस्पताल ले गए जहां उनकी मृत्यु हो गई। इस मामले में परिजनों ने तीन लोगों के खिलाफ तहरीर दी।

जिसमें तत्काल एफआईआर कराया गया। रातभर टीम लगाकर पुलिस ने हिरासत में लिया है। मुख्य आरोपी वीरेश तोमर व अन्य लोगों से पूछताछ की जा रही है।

मुख्य आरोपी कोई ग्रुप से जुड़ा है। लेकिन आरोपी के डायरेक्ट भाजपा का सदस्य होंने की कोई बात पता नहीं चली है। पुरानी रंजिष भी बतायी जा रही है। फेसबुक से आपसी मतभेद बताया जा रहा है। सभी बिन्दुओं पर जांच की जा रही है। आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

ज्ञात हो कि उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले में शुक्रवार रात भाजपा नेता दयाशंकर अपनी परचून की दुकान पर बैठे थे, तभी बाइक पर आए तीन युवकों में से एक ने उन पर फायर झोंक दिए। आगरा में उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। घटना के बाद गुस्साए लोगों ने जाम लगा दिया, शव के पोस्ट मार्टम को भेजे जाने एवं तहरीर दर्ज होने के बाद खुल गया। एसपी सिटी समेत बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंच गया था। हत्या के पीछे राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता मानी जा रही है।

यह घटना टूंडला विधानसभा क्षेत्र की है। दयाशंकर गुप्ता नगला बीच कस्बे के भाजपा मंडल उपाध्यक्ष हैं। नगला बीच कस्बा में चैराहे पर उनकी परचून की दुकान है। शुक्रवार रात वह अपनी दुकान पर बैठे थे। तभी एक बाइक उनकी दुकान के सामने आकर रुकी। बाइक सवार तीन में से एक युवक दुकान पर पहुंचा। उसने दयाशंकर पर दो फायर झोंक दिए। इसके बाद तीनों युवक भाग गए।

उधर, गुस्साए लोगों ने जाम लगा दिया। कई थानों का फोर्स लेकर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने जैसे-तैसे जाम खुलवाया। परिजनों ने बताया कि उपचुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशी के नामांकन से वापस लौटने के बाद दयाशंकर अपनी दुकान पर बैठे थे। दुकान बंद करते समय हमलावरों ने वारदात को अंजाम दिया।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news