चंपावत के एसडीएम सदर अनिल चन्याल लापता, तलाश में जुटी पुलिस की तीन टीमें

पूरे जिले की पुलिस टीम एसडीएम की खोजबीन में जुटी है। देर शाम एसडीएम के खानसामा रमेश राणा ने उनके लापता होने की गुमशुदगी चम्पावत कोतवाली में दर्ज कराई है।
चंपावत के एसडीएम सदर अनिल चन्याल लापता, तलाश में जुटी पुलिस की तीन टीमें

चम्पावत के एसडीएम सदर अनिल चन्याल करीब 72 घंटे से लापता हैं। आखिरी बार उन्हें बीते शनिवार को देखा गया था। सोमवार को डीएम की मीटिंग में उनकी गैरहाजिरी पर एसडीएम के लापता होने का मामला खुला। एसडीएम कहां गए, इसकी जानकारी न तो उच्च अधिकारियों को है और न ही परिजनों को। उनके अचानक लापता होने से हड़कंप है।

पूरे जिले की पुलिस टीम एसडीएम की खोजबीन में जुटी है। देर शाम एसडीएम के खानसामा रमेश राणा ने उनके लापता होने की गुमशुदगी चम्पावत कोतवाली में दर्ज कराई है। एसपी देवेंद्र पींचा ने बताया कि सोमवार को जिला सभागार में डीएम ने विकास कार्यों की समीक्षा को लेकर अधिकारियों की बैठक ली।

लेकिन बैठक में एसडीएम सदर चन्याल मौजूद नहीं थे। उन्हें फोन किया तो नंबर स्विच ऑफ आया। एसडीएम के खाना बनाने वाले खानसामे से जब उनके बारे में जानकारी ली तो पता चला कि बीते शनिवार को एसडीएम ने उसे छुट्टी दे दी थी। सोमवार को वह अपनी ड्यूटी पर लौटा तो एसडीएम के कमरे में ताला लगा हुआ था लेकिन लॉबी खुली थी।

जानकारी मिली है कि शनिवार को एसडीएम किसी को कुछ बताये बिना कहीं चले गए हैं। वह अपना सरकारी फोन अपने कमरे में रखा छोड़ गए हैं। साथ में उन्होंने एक पत्र अपनी टेबल पर छोड़ा है। जिसमें लिखा है कि ‘ये सरकारी नंबर आपदा में जमा करवा देना।’ पुलिस के मुताबिक, बीते शनिवार को खानसामे को एसडीएम ने छुट्टी दे दी थी। जब खानसामा ड्यूटी पर लौटकर आया तो खुली मिली लॉबी में एसडीएम का सरकारी फोन और पत्र रखा पाया।

हल्द्वानी में रहता है एसडीएम का परिवार
चम्पावत। लापता एसडीएम अनिल चन्याल का निजी आवास हल्द्वानी के दमुआढूंगा में है। उनका परिवार हल्द्वानी में ही रहता है। चम्पावत में चन्याल अकेले ही रहते हैं। जानकारी के अनुसार, हल्द्वानी में चन्याल के परिजनों से भी उनके बारे में कोई जानकारी फिलहाल नहीं मिल सकी है।

जिले की एसओजी, सर्विलांस टीम समेत जिला पुलिस की टीम लापता एसडीएम सदर अनिल चन्याल की खोजबीन में जुटे हैं। उनके परिजनों को इसकी जानकारी दे दी गई है। मामले में फिलहाल पुलिस को कोई तहरीर नहीं मिली है।
देवेंद्र पींचा, एसपी, चम्पावत।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news