राजस्थान: पानी की सप्लाई का जश्न मनाने के लिए बाड़मेर के ग्रामीण सड़कों पर थिरके

राजस्थान के पानी की कमी से जूझ रहे बाड़मेर जिले के ग्रामीणों को नियमित रूप से पानी का कनेक्शन मिलने के बाद वे खुशी से झूम उठे। यहां के पांच गांवों के ग्रामीणों को पहले पानी लाने के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती थी।
राजस्थान: पानी की सप्लाई का जश्न मनाने के लिए बाड़मेर के ग्रामीण सड़कों पर थिरके

राजस्थान के पानी की कमी से जूझ रहे बाड़मेर जिले के ग्रामीणों को नियमित रूप से पानी का कनेक्शन मिलने के बाद वे खुशी से झूम उठे। यहां के पांच गांवों के ग्रामीणों को पहले पानी लाने के लिए लंबी दूरी तय करनी पड़ती थी। जब गांव के हर एक घर में पानी का कनेक्शन दिया गया, नल लगाए गए, तो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मशहूर नर्तक मदनलाल ने सड़कों पर नृत्य कर अपनी इस खुशी का इजहार किया।

मदनलाल ने कहा, "यह मेरे लिए गर्व का पल है क्योंकि बाड़मेर के पहले पांच गांवों में मेरे गांव को भी जल जीवन मिशन के तहत सेवा दिए जाने के लिए शामिल किया गया है।"

इस दौरान गांव के लोगों ने इस तरह से जश्न मनाया जैसे कि कोई त्यौहार हो। लोकगीत की धुन पर यहां के लोग सड़कों पर खुशी से थिरक उठे।

एक बुजुर्ग ग्रामीण रामाराम ने इसे एक ऐतिहासिक क्षण के रूप में वर्णित करते हुए कहा, "इस तरह से नाचना पानी मिलने पर अपनी खुशी व्यक्त करने का हमारा तरीका है।"

इससे पहले, गांववालों को रोजाना पानी लाने के लिए मीलों पैदल चलना पड़ता था क्योंकि बाड़मेर एक काफी रुखा-सूखा इलाका है। यहां पानी की नियमित आपूर्ति वास्तव में इस सूखे जिले के लिए दूर का सपना रहा है।

नवगठित जल शक्ति मंत्रालय द्वारा शुरू की गई हर घर जल योजना के तहत पानी अब वह अप्राप्य सपना नहीं रह गया है। दरअसल, बाड़मेर के पांच गांवों में अब हर घर में नल का पानी मिलने लगेगा। जन स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता सुरेश चंद्र जैन ने बताया कि दिसंबर, 2024 तक सभी गांवों को पानी के नल का कनेक्शन मिल जाएगा।

जैन ने पानी की कमी को जल्द दूर करने का वादा करते हुए कहा कि जिले के हर गांव को जल जीवन मिशन से जोड़ा जा रहा है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news