पति के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पत्नी का जल सत्याग्रह, न्याय की गुहार लिए तिरंगा लेकर पानी में उतरे सैंकड़ों लोग
ताज़ातरीन

पति के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पत्नी का जल सत्याग्रह, न्याय की गुहार लिए तिरंगा लेकर पानी में उतरे सैंकड़ों लोग

रामाश्रय सिंह की पत्नी सुनीता सिंह ने इस केस को लेकर प्रशासन और पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि हत्या के एक साल बाद भी आरोपी पकड़े नहीं गए हैं.

Yoyocial News

Yoyocial News

बिहार के गोपालगंज के भोरे में करीब एक साल पहले कारोबारी रामाश्रय सिंह की हत्या के मामले में दोषियों के नहीं पकड़े जाने को लेकर लोगों ने अनोखा प्रदर्शन किया. भोरे के लच्छीक में लोगों ने रामाश्रय सिंह के हत्यारों को जल्द से जल्द पकड़ने की मांग को लेकर पानी में खड़े होकर प्रदर्शन किया. पानी में खड़े होकर सैकड़ों की भीड़ ने पुलिस और प्रशासन से पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की मांग की.

जस्टिस फॉर रामाश्रय सिंह के पोस्टर के साथ इस प्रदर्शन में महिला और बच्चों ने भी हिस्सा लिया. वहीं, मृतक कारोबारी रामाश्रय सिंह की पत्नी ने इस हत्याकांड में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की. बता दें 13 जून, 2019 को दो मोटरसाइकिल पर सवार 6 हथियारबंद अपराधियों ने कारोबारी रामाश्रय सिंह पर दिनदहाड़े गोलियां बरसा कर उनकी हत्या कर दी थी.

रामाश्रय सिंह की पत्नी सुनीता सिंह ने इस केस को लेकर प्रशासन और पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि हत्या के एक साल बाद भी आरोपी पकड़े नहीं गए हैं. मृतक रामाश्रय सिंह की पत्नी ने ये सवाल भी उठाया कि जब कोर्ट ने आरोपियों की गिरफ्तारी का आदेश दे दिया है तो फिर बीच में सीआईडी जांच क्यों की जा रही है?

सुनीता सिंह का आरोप है कि इस केस को कुछ लोगों द्वारा गुमराह किया जा रहा है. इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा कि उनके परिवार को जान से मारने की धमकी भी मिल रही है. फिर भी पूरा परिवार हिम्मत के साथ न्याय पाने के लिए डटा हुआ है. बता दें कि सुनीता सिंह अपने पति को न्याय दिलाने के लिए पिछले एक महीने से लगातार आंदोलन कर रही हैं.

वहीं, इस मामले को लेकर गोपालगंज के एसपी मनोज तिवारी ने रामाश्रय सिंह के परिजनों के लगाए आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. एसपी ने कहा 'इस मामले में चार आरोपियों की कुर्की हो चुकी है, 2 लोग जमानत पर हैं और जो 4 लोग फरार हैं उनकी गिरफ्तारी की कोशिश हो रही है.'

एसपी ने कहा कि मृतक के परिजन एफआईआर में दर्ज कुछ खास लोगों के खिलाफ कार्रवाई चाहते हैं लेकिन कानून के हिसाब से ही इस मामले में कार्रवाई चल रही है और दोषियों को सजा दिलाई जाएगी.

पत्नी सुनीता सिंह के मुताबिक अगर इस मामले में हत्यारों की गिरफ्तारी हुई है तो लूटा हुआ पिस्टल और सोने की चेन पुलिस ने अबतक बरामद क्यों नहीं किया है. बतौर सुनीता उनका यह जल सत्याग्रह का आन्दोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक अपराधियों की गिरफ्तारी नहीं हो जाती है.

मृतक के भाई हरिनारायण सिंह ने कहा कि वे लोग जल सत्याग्रह के माध्यम से सरकार से न्याय से गुहार लगा रहे है. उन्हें जब तक न्याय नहीं मिलेगा, तब तक यह सत्याग्रह जारी रहेगा. उन्होंने कहा कि एसपी साहब गलत बयान दे रहे हैं कि हत्यारों की गिरफ्तारी की जा चुकी है. मगर ऐसा नहीं हुआ है.

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news