Windows 11 बिना एंड्रॉइड ऐप्स सपोर्ट के होगा रोलआउट

विंडोज 11 एक नए माइक्रोसॉफ्ट स्टोर के साथ आएगा, जिसे एक नए डिजाइन के साथ बनाया गया है जिससे एक विश्वसनीय स्थान पर अपने पसंदीदा ऐप्स, गेम, शो और फिल्मों को सर्च करना आसान हो जाएगा।
Windows 11 बिना एंड्रॉइड ऐप्स सपोर्ट के होगा रोलआउट

माइक्रोसॉफ्ट ने अपनी वेबसाइट पर एक जानकापी साझा करते हुए कहा है कि विंडोज 11 पर एंड्रॉइड ऐप्स का सपोर्ट नहीं करेगा। एंड्रॉइड ऐप्स के लिए विंडोज 11 यूजर्स को गूगल के मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए बनाए गए ऐप्स को सीधे अपने डेस्कटॉप पर चलाने की अनुमति देगा।

विंडोज 11 एक नए माइक्रोसॉफ्ट स्टोर के साथ आएगा, जिसे एक नए डिजाइन के साथ बनाया गया है जिससे एक विश्वसनीय स्थान पर अपने पसंदीदा ऐप्स, गेम, शो और फिल्मों को सर्च करना आसान हो जाएगा।

कंपनी ने एक बयान में कहा,हम अमेजॉन और इंटेल के साथ अपने सहयोग के माध्यम से एंड्रॉइड ऐप को विंडोज 11 और माइक्रोसॉफ्ट स्टोर में लाने के लिए अपनी यात्रा जारी रखने के लिए तत्पर हैं। यह आने वाले महीनों में विंडोज इंसाइडर्स के लिए एक पूर्वावलोकन के साथ शुरू होगा।

विंडोज 11 का रोलआउट पिछले विंडोज 10 फीचर अपडेट की तरह ही काम करेगा।

यूजर्स 5 अक्टूबर के बाद सेटिंग्स विंडोज अपडेट पर जाकर विंडोज 11 में डिवाइस में अपडेट कर सकते हैं।

जुलाई में पेश किया गया, विंडोज 11 स्क्रीन पर एप्लिकेशन को स्नैप करने के लिए एक स्लीक लुक और लेआउट के साथ आता है।

माइक्रोसॉफ्ट पहले ही पीसी पर विंडोज 11 चलाने के लिए बुनियादी आवश्यकताओं का खुलासा कर चुका है। इसके लिए एक ऐसे प्रोसेसर की आवश्यकता होगी जिसमें दो या अधिक कोर हों और 1 गीगाहट्र्ज या उससे अधिक हो साथ ही 4जीबी रैम और कम से कम 64जीबी स्टोरेज हो।

कपंनी ने हाल ही में घोषणा की थी कि विंडोज 11 आधिकारिक तौर पर इंटेल कोर एक्स-सीरीज, जीऑन डब्ल्यू-सीरीज और इंटेल कोर 7820एचक्यू का सपोर्ट करेगा।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news