WPI Inflation: महंगाई के मोर्चे पर राहत; मार्च में थोक महंगाई दर घटकर 1.34% पर आई, 29 महीनों में सबसे कम

मार्च के थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े जारी करने के कुछ दिन पहले सांख्यिकी व कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय ने 12 अप्रैल को कहा था कि खुदरा मुद्रास्फीति पिछले महीने घटकर 15 महीने के निचले स्तर 5.66 प्रतिशत पर आ गई।
WPI Inflation: महंगाई के मोर्चे पर राहत; मार्च में थोक महंगाई दर घटकर 1.34% पर आई, 29 महीनों में सबसे कम

थोक महंगाई दर में मार्च के महीने में गिरावट दर्ज की गई है। डब्ल्यूपीआई इन्फ्लेशन मार्च महीने में फरवरी के 3.85% के मुकाबले घटकर 1.34% पर पहुंच गई है।  इससे पिछले महीने यानी जनवरी 2023 में थोक महंगाई दर 4.73 फीसदी पर रही थी। मार्च 2022 में थोक महंगाई दर 14.62 प्रतिशत रही थी। थोक महंगाई दर का ताजा आंकड़ा पिछले 29 महीनों में सबसे कम है।

खुदरा मुद्रास्फीति भी गिरकर 5.66 प्रतिशत पर पहुंची
मार्च के थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति के आंकड़े जारी करने के कुछ दिन पहले सांख्यिकी व कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय ने 12 अप्रैल को कहा था कि खुदरा मुद्रास्फीति पिछले महीने घटकर 15 महीने के निचले स्तर 5.66 प्रतिशत पर आ गई। मार्च, 2023 में मुद्रास्फीति की दर में नरमी मुख्य रूप से बुनियादी धातुओं, खाद्य उत्पादों, वस्त्रों, गैर-खाद्य वस्तुओं, खनिजों, रबर, प्लास्टिक उत्पादों, कच्चे पेट्रोलियम व प्राकृतिक गैस और कागज व उससे बने उत्पादों की कीमतों में गिरावट के कारण आई है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news