असम में बाढ़ और कोरोना के समय राहुल गांधी को इटली याद आता है: योगी

असम में बाढ़ और कोरोना के समय राहुल गांधी को इटली याद आता है: योगी

असम में चुनाव प्रचार करने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को कांग्रेस और वामदलों पर खूब बरसे। कहा जब असम ने बाढ़ आती है तो भाजपा के कार्यकर्ता आपके साथ होते हैं, लेकिन राहुल गांधी को इटली याद आ जाता है।

असम में चुनाव प्रचार करने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को कांग्रेस और वामदलों पर खूब बरसे। कहा जब असम ने बाढ़ आती है तो भाजपा के कार्यकर्ता आपके साथ होते हैं, लेकिन राहुल गांधी को इटली याद आ जाता है।

एक के बाद एक तीन चुनावी रैलियों में योगी ने कांग्रेस को खास तौर से निशाने पर रखा। उदरबंग, सिलचर और बोरखोला की रैलियों के मंच से योगी ने कांग्रेस पर असम समेत पूरे देश में अराजकता फैलाने की साजिश रचने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि, "पहले असम में बम विस्फोट होते थे, धरने होते थे लेकिन पिछले 5 साल से असम में शांति है। कांग्रेस घुसपैठ करा कर अराजकता और अलगाववाद को बढ़ाने में लगी हुई है लेकिन भाजपा की सरकार ऐसा होने नहीं देगी।"

योगी ने कांग्रेस पर असम में राइनो का शिकार करवाने का आरोप लगाया। योगी ने कहा कि असम की पहचान माने जाने वाले राइनो का शिकार करवा कर कांग्रेसी उसकी सींग की तस्करी करते थे।

योगी ने कहा कि असम सद्भावना पूर्ण तरीके से विकास की नई ऊंचाइयों को छू रहा है। उन्होंने कहा कि असम में भाजपा विकास के पथ पर सबको ले जाना चाहती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने असमवासियों को रंगोली, पीरु की हार्दिक बधाई दी।

उन्होंने कहा कि, "आदिशक्ति मां कामाख्या और महाबाहु ब्रह्मपुत्र असम को एक पहचान देती है। साथ ही यहां से निकलने वाली बराक नदी और यहां के चाय बागान देश और दुनिया के सामने असम को एक पहचान देते हैं। पहले असम को क्षेत्र के आधार पर बांट कर आपस में लड़ाने का काम किया जाता था। असम के अंदर विकास की चर्चा नहीं होती थी। कहीं वोडोलैंड की समस्या थी, तो कहीं पर घुसपैठ की।"

सीएम ने कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगी व्यक्तिगत राजनीतिक स्वार्थों के लिए असमवासियों को आपस में ऊपरी असम और निचले असम के रूप में और तमाम अन्य भेदों के आधार पर बांटने का काम कर रहे थे। लेकिन पीएम नरेन्द्र मोदी ने पूर्वोत्तर के राज्यों की तस्वीर बदल दी है। योगी ने कहा कि सर्वानंद सोनोवाल के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनी तो घुसपैठियों को वहां से निकाल कर बाहर कर दिया गया है।

योगी ने कहा कि, "पिछले 5 वर्षों के दौरान असम में शांति स्थापित हुई है। असम में सौहाद्र व सद्भावना का माहौल है। इससे असम विकास की एक नई ऊंचाइयों को छू रहा है। यहां के प्रत्येक नागरिक जिनके पास अपने आवास नहीं थे, उनको आवास की सुविधा दी गई।

राशन कार्ड की सुविधा के आयुष्मान योजना से जोड़ कर स्वास्थ्य लाभ देने का काम किया गया है। चाय बागान में कार्य करने वाले कर्म योगियों का मानदेय 217 रूपए किया गया, जिसे अब 300 रुपए करने की कार्य योजना तैयार की जा रही है। खेलो इंडिया खेलो अभियान के तहत असम के अंदर खेलकूद के प्रतियोगिताएं हुई।"

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के समय में असम में अलगाववाद, आपसी झगड़े, बंदी , अराजकता का राज था। इसकी साजिश आज भी कांग्रेस असम में कर रही है। असम के अंदर एआईयूडीएफ के साथ कांग्रेस का समझौता है। कम्युनिस्टों के साथ कांग्रेस का समझौता इस बात को प्रदर्शित करता है कि वह अलगाववाद के साथ है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news