स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में हुए शामिल, बोले 'हमनें जिसका साथ छोड़ा उसका कहीं पता नहीं चलता, मायावती इसकी जिंदा मिसाल हैं'

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, 'हम जिसका साथ छोड़ देते हैं, उसका कहीं पता नहीं चलता। मायावती इसकी जिंदा मिसाल हैं। वह आंबेडकर के मिशन से हट गईं। मान्यवर कांशीराम के आंख मूंदते ही नारा बदल दिया था।
स्वामी प्रसाद मौर्य सपा में हुए शामिल, बोले 'हमनें जिसका साथ छोड़ा उसका कहीं पता नहीं चलता, मायावती इसकी जिंदा मिसाल हैं'

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में श्रम मंत्री के पद से इस्तीफा देने वाले स्वामी प्रसाद मौर्य आज समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। यही नहीं इस दौरान उन्होंने भाजपा के साथ ही बसपा पर भी हमला बोला, जिसमें वह लंबे समय तक रहे थे। एक दौर में वह मायावती के करीबी नेताओं में से एक थे, लेकिन उन पर भी तीखा हमला बोला।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, 'हम जिसका साथ छोड़ देते हैं, उसका कहीं पता नहीं चलता। मायावती इसकी जिंदा मिसाल हैं। वह आंबेडकर के मिशन से हट गईं। मान्यवर कांशीराम के आंख मूंदते ही नारा बदल दिया था।

बहन मायावती ने उनके नारे 'जिसकी जितनी भागीदारी, उसकी उतनी हिस्सेदारीट को बदल दिया। उन्होंने नया नारा दिया- जिसकी जितनी तैयारी, उसकी उतनी भागीदारी।'

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, 'आज भारतीय जनता पार्टी के वो बड़े-बड़े नेता जो कुंभकर्णी नींद सो रहे थे, उनकी नींद हमारे इस्तीफों के बाद हराम हो गई है। इसके साथ ही भाजपा के कुछ लोग कहते हैं कि 5 साल तक क्यों नहीं इस्तीफा दिया। कुछ बददिमाग लोग यह भी कहते हैं कि बेटे के चक्कर में भाजपा छोड़ दी। मैं ऐसे लोगों से कहना चाहता हूं कि भाजपा के लोगों ने इस देश के गरीबों, मजलूमों, दलितों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की आंखों में धूल झोंककर सत्ता हथियाई थी।'

यही नहीं पिछड़ी बिरादरी के नेता के तौर पर खुद को स्थापित करने की कोशिश में जुटे स्वामी ने कहा, 'भले में ही मैंने पार्टी नहीं बनाई है, लेकिन किसी भी पार्टी से कम नहीं हैं।'

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news