मध्य प्रदेश: गुना के मिशनरी स्कूल में भारत माता की जय बोलने पर छात्र को ढाई घंटे जमीन पर बैठाया

जानकारी लगने पर हिंदू नेताओं और अभिभावक पहुंच गए और हंगामा कर दिया। मामले में स्कूल प्रशासन और दो शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।
मध्य प्रदेश: गुना के मिशनरी स्कूल में भारत माता की जय बोलने पर छात्र को ढाई घंटे जमीन पर बैठाया

मप्र के गुना जिला मुख्यालय स्थित एक मिशनरी स्कूल में 'भारत माता की जय' बोलने पर बवाल हो गया। यहां कक्षा सातवीं के छात्र को न केवल फटकार लगाई, बल्कि उसे अगले 4 पीरियड (करीब ढाई घंटे) तक जमीन पर भी बिठाए रखा।

जानकारी लगने पर हिंदू नेताओं और अभिभावक पहुंच गए और हंगामा कर दिया। मामले में स्कूल प्रशासन और दो शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

जानकारी के अनुसार, गुना के क्राइस्ट सीनियर हायर सेकंडरी स्कूल में बुधवार को राष्ट्रगान के बाद एक छात्र ने भारत मां के जयकारे लगाए, तो शिक्षक ने छात्र की कालर पकड़कर लाइन से बाहर निकाल दिया। साथ ही कक्षा में नाबालिग छात्र को ढाई घंटे तक जमीन पर बैठाकर प्रताड़ित किया।

इसके विरोध में गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद सहित अन्य सामाजिक संगठनों ने स्कूल परिसर में जमकर नारेबाजी कर धरना दिया। शहर कोतवाली थाना पुलिस ने स्कूल प्रशासन के खिलाफ तीन धाराओं में मामला दर्ज किया है।

पीड़ित छात्र के पिता गुना निवासी रोहित जैन बताया कि उनका बेटा क्राइस्ट स्कूल में कक्षा 7वीं में पढ़ता है। बुधवार को स्कूल में प्रेयर के बाद उसने 'भारत माता की जय' बोल दिया। इसी बात पर मौजूद टीचर भड़क उठे।

बच्चे को 4 पीरियड तक जमीन पर बैठने की सजा दी गई। उसे डराया-धमकाया गया। यह बात बच्चे के दिल में इतनी असर कर गई कि घर पहुंचकर उसने खुद को कमरे में बंद कर लिया।

माता-पिता ने तुरंत हाव भाव देख उससे बात की, तो बच्चे ने पूरी घटना बताई। छात्र ने बताया कि जब उसने राष्ट्रगान के बाद भारत माता की जयघोष किया तो शिक्षक जस्टिन ने कालर पकड़कर कहा कि भारत माता की जय वह अपने घर पर कहे। स्कूल में भारत माता के जयघोष नहीं कर सकते हैं। छात्र को कक्षा शिक्षक जस्मीना खातून ने भी ढाई घंटे तक जमीन पर बैठाकर प्रताड़ित किया।

इस घटना के बाद अभाविप व अन्य सामाजिक संगठनों के साथ अभिभावक गुरुवार दोपहर करीब 12 बजे स्कूल पहुंच गए। यहां पहुंचकर हंगामा शुरू कर दिया। वे स्कूल में परिसर में धरने पर बैठ गए। उन्होंने नारेबाजी करते हुए हनुमान चालीसा का पाठ किया। सूचना पर पुलिस और प्रशासन के अफसर भी मौके पर पहुंच गए।

हंगामा शाम 7.00 बजे तक चलता रहा। इस दौरान पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे। इस घटना के बाद स्कूल प्रशासन ने लिखित माफीनामा देते हुए पालक शिक्षक संघ को संबंधित शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। अधिकारियों के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ।

प्रदर्शन के बाद कोतवाली थाना पुलिस ने दो शिक्षकों जस्टिन और जास्मिना खातून के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। प्रशासन ने भी स्कूल की जमीन की नपती की है। एक बीघा सरकारी जमीन स्कूल के कब्जे में निकली है। शुक्रवार सुबह सरकारी जमीन को मुक्त कराने की कार्रवाई की जा सकती है।

गुना एसडीएम वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि क्राइस्ट स्कूल में बच्चे को प्रताड़ित करने वाले दोनों शिक्षकों के साथ ही स्कूल प्रशासन पर विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। साथ ही ऐसी घटना दोबारा न हो, इसको लेकर भी हिदायत दी गई है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news