Atiq-Ashraf Murder: तीनों शूटरों को नैनी जेल से प्रतापगढ़ किया गया शिफ्ट, इस वजह से लिया गया फैसला

अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ के हत्यारोपियों लवलेश तिवारी, शनि सिंह उर्फ मोहित व अरुण कुमार मौर्या को प्रयागराज की नैनी जेल से निकालकर प्रतापगढ़ जिला जेल में शिफ्ट किया गया है।
Atiq-Ashraf Murder: तीनों शूटरों को नैनी जेल से प्रतापगढ़ किया गया शिफ्ट, इस वजह से लिया गया फैसला

अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ के हत्यारोपियों लवलेश तिवारी, शनि सिंह उर्फ मोहित व अरुण कुमार मौर्या को प्रयागराज की नैनी जेल से निकालकर प्रतापगढ़ जिला जेल में शिफ्ट किया गया है। बता दें कि तीनों शूटरों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है। सूत्रों के मुताबिक सुरक्षा कारणों के कारण इन तीनों की जेल बदली गई है। 

हालांकि इससे पहले जब इन्हें नैनी जेल लेकर आया गया तो जेल प्रशासन ने इनकों कैसे सुरक्षित रखा जाए, इसके लिए जेल अधिकारियों ने घंटों बैठक कर कार्ययोजना तैयार की थी, बावजूद इसके इनको शिफ्ट करना ही बेहतर समझा गया।

अतीक और अशरफ के पास बड़ी संख्या में उद्योगपतियों, नेताओं, अफसरों के राज थे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अतीक सरकारी गवाह बनने के लिए भी तैयार था। अगर ऐसा होता तो कई नेताओं, उद्योगपतियों और अफसरों की पोल खुल सकती थी। ऐसे में संभव है कि राज खुलने के डर से किसी ने अतीक और उसके भाई की हत्या करवा दी हो। ऐसा करके वह पूरा मामला ही खत्म करवाना चाह रहा हो।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news