UP Weather Update: आठ अक्तूबर तक यूपी के इन जिलों में भारी बारिश की संभावना, येलो अलर्ट जारी

वहीं, बुधवार को लखनऊ में सुबह से जारी बारिश का दौर खबर लिखे जाने तक जारी रहा। सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र में 61.4 डिग्री बरसात रिकॉर्ड हुई है।
UP Weather Update: आठ अक्तूबर तक यूपी के इन जिलों में भारी बारिश की संभावना, येलो अलर्ट जारी

विजयदशमी के दिन बुधवार को हुई भारी बरसात थमने वाली नहीं। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि यह सिलसिला अभी आठ अक्तूबर तक जारी रह सकता है। नौ अक्तूबर से राहत मिलेगी। इस दौरान मौसम विभाग ने प्रदेश के अलर्ट जारी किया है। जारी चेतावनी के मुताबिक प्रदेश में कहीं भारी तो कहीं अत्य़धिक भारी बारिश के आसार बन रहे हैं।

वहीं, बुधवार को लखनऊ में सुबह से जारी बारिश का दौर खबर लिखे जाने तक जारी रहा। सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र में 61.4 डिग्री बरसात रिकॉर्ड हुई है। जून से 30 सितंबर तक की बात करें तो इतनी बारिश एक दिन में कभी नहीं हुई। इस सीजन में मानसूनी बारिश भी 60 मिमी से नीचे ही दर्ज हुई है।

आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक कम दबाव के क्षेभ का सक्रिय होना, पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता व टर्फ लाइन का मध्य उत्तर प्रदेश से होकर गुजरने जैसे तीन कारणों का असर है कि बारिश हो रही है।

इन जिलों व आसपास के इलाकों के लिए येलो अलर्ट
बरेली, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी. फरुर्खाबाद, कानपुर देहात, कन्नौज, जालौन, झांसी, महोबा, बांदा, रामपुर नगर, उन्नाव, सीतापुर लखनऊ, बाराबंकी, रायबरेली, कौशांबी, बंदायू, प्रयागराज, प्रतापगढ़, जौनपुर, वाराणसी, मिर्जापुर, अयोध्या, बस्ती, अंबेडकरनगर, सिद्धार्थ नगर, सोनभद्र, कबीरनगर, गोरखपुर, गाजीपुर, बलिया, कुशीनगर, देवरिया, महाराजगंज व इन जिलों के आसपास के इलाकों के लिए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है।

बाराबंकी में बरसात से फसलों को नुकसान
अक्टूबर के पहले सप्ताह में बिगड़े मौसम ने किसानों की नींद उड़ा दी है। जिले में बुधवार भोर शुरू हुई बरसात पूरा दिन होती रही। बरसात से कई जगहों पर खेतों में कटी पड़ी धान की फसल डूब गई है तो जो फसल परिपक्व हो रही थी वह भी खेतों में बिछ गई है। सब्जियों की फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है।

उप कृषि निदेशक श्रवण कुमार ने बताया कि अक्टूबर के महीने में धान की फसल भी तैयार होने वाली होती है। इस समय खेती को पानी की आवश्यकता नहीं होती मगर बरसात के कारण फसलों को  नुकसान पहुंचा है। बरसात के कारण शहर से लेकर गांव तक जल भराव हो गया है। शहर के दशहराबाग खलरिया, मखदुमपुर लक्ष्मणपुरी कॉलोनी बाल विहार कॉलोनी कार्तिक विहार कॉलोनी व लखपेड़ाबाग में कई जगहों पर सड़कों पर पानी भरने से आवागमन प्रभावित हुआ। बुधवार को पूरे जिले में दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन होने के दौरान बरसात होने से पुलिस प्रशासन को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। मौसम विभाग ने बृहस्पतिवार को भी बरसात की संभावना जताई है ।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news