उत्तराखंड: साल 2015 की दरोगा भर्ती की जांच विजिलेस को, मुख्यमंत्री के अनुमोदन के बाद शासन ने जारी किए आदेश

07 साल पहले साल 2015 में हुई 339 दारोगा भर्ती पर लगातार उठ रहे सवालों को देखते हुए उत्तराखंड शासन ने इस भर्ती प्रक्रिया की विजिलेंस जांच के आदेश जारी कर दिए हैं।
उत्तराखंड: साल 2015 की दरोगा भर्ती की जांच विजिलेस को, मुख्यमंत्री के अनुमोदन के बाद शासन ने जारी किए आदेश

07 साल पहले साल 2015 में हुई 339 दारोगा भर्ती पर लगातार उठ रहे सवालों को देखते हुए उत्तराखंड शासन ने इस भर्ती प्रक्रिया की विजिलेंस जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके तहत शासन में निदेशक विजिलेंस को पत्र लिखकर जल्द से जल्द जांच पूरी कर रिपोर्ट शासन को सौंपने को कहा है।

गौरतलब है कि 2015 दारोगा भर्ती की जांच को लेकर पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने शासन को पत्र भेजकर इस पूरे प्रकरण की जांच किसी स्वतंत्र एजेंसी से कराने की सिफारिश की थी। जिसके बाद मुख्य सचिव डा एसएस संधु की अध्यक्षता में गठित समिति ने पुलिस महानिदेशक की संस्तुति पर सहमति जताते हुए पत्रावली मुख्यमंत्री कार्यालय भेजी।

वहीं मुख्यमंत्री से अनुमोदन मिलने के बाद मंगलवार को अपर सचिव कार्मिक ललित मोहन रयाल द्वारा विजिलेंस जांच के आदेश जारी कर दिए गए।

गौरतलब है कि साल 2015 में यह दारोगा भर्ती तत्कालीन कांग्रेस सरकार में हुई थी। जिसमें दारोगा के 339 पदों पर भर्ती परीक्षा की जिम्मेदारी गोविंद बल्लभ पंत विश्वविद्यालय, पंतनगर को दी गई थी।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news