प्रकृति से चाहते है जुड़ना तो Kasol की इन जगहों को भी करिए कभी Explore, वीकेंड पर कर सकते हैं प्लान

इसकी खूबसूरती और खासियतों के कारण यहां विदेशी पर्यटक भी सबसे ज्यादा आते हैं। इस छोटे से गांव में देखने के लिए बहुत कुछ है, जरा पहाड़ों से निकलकर इन्हें भी अपनी घूमने की लिस्ट में जरूर शामिल करें।
प्रकृति से चाहते है जुड़ना तो Kasol की इन जगहों को भी करिए कभी Explore, वीकेंड पर कर सकते हैं प्लान

खूबसूरती को अपने में समेटे हिमाचल का कसोल गांव यहां के प्रसिद्ध जगहों में से एक है, जिसे देखने की इच्छा हर किसी की होती है। खासकर यहां आप दोस्तों के ग्रुप को घूमते हुए देख सकते हैं। इसकी खूबसूरती और खासियतों के कारण यहां विदेशी पर्यटक भी सबसे ज्यादा आते हैं। इस छोटे से गांव में देखने के लिए बहुत कुछ है, जरा पहाड़ों से निकलकर इन्हें भी अपनी घूमने की लिस्ट में जरूर शामिल करें।

मणिकरण साहिब - Manikaran Sahib

माना जाता है कि सिखों के पहले धार्मिक नेता, गुरु नानक द्वारा एक बार यहां आए थे, मणिकरण साहिब में गुरुद्वारा सिख धर्म में सबसे प्रतिष्ठित तीर्थ स्थलों में से एक है और कसोल में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है। दिलचस्प बात ये है कि यहां के गर्म झरनों को पवित्र माना जाता है। यही कारण है कि यहां भगवान के प्रसाद को इन गर्म झरनों में पकाया जाता है। इसके अलावा, झरने में नहाना एक अन्य अनुष्ठान माना जाता है, जहां तीर्थयात्री भगवान के और करीब जाते हैं। अगली बार कसोल जाएं तो यहां जाना बिल्कुल भी न भूलें।

पार्वती नदी - Parvati River

मनतलाई ग्लेशियर से उत्पन्न, पार्वती नदी निश्चित रूप से आवश्यक कसोल आकर्षणों में से एक है। नदी उत्तर में पार्वती घाटी के माध्यम से कुल्लू के पास ब्यास नदी में बहती है। जीवन की उथल-पुथल से दूर आप यहां पानी के बीच बैठकर कुछ समय शांति से बिता सकते हैं। ये जगह एडवेंचर प्रेमियों के लिए भी एकदम बेस्ट है। आप यहां मछली पकड़ने वाली एक्टिविटी भी कर सकते हैं या पैरों को पानी में डूबोकर ढेर सारी मस्ती कर सकते हैं।

खीरगंगा चोटी - Kheer Ganga Peak

कसोल में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से, खीर गंगा हरी-भरी पहाड़ियों और खुले आसमान के बीच एक खूबसूरत नजारा पेश करता है। अगर आप खीरगंगा के लिए नए-नए हैं या आपने पहले इसे कभी नहीं देखा, तो हम आपको बता दें, इस शानदार ट्रैक को कसोल के सबसे शानदार ट्रैक में गिना जाता है। शिव की भूमि के रूप में प्रसिद्ध खीरगंगा अपनी पौराणिक मान्यताओं की वजह से काफी फेमस है। इसके अलावा आप यहां गर्म पानी के झरने का मजा भी ले सकते हैं।

तीर्थन घाटी - Tirthan Valley

हिमाचल के सबसे लोकप्रिय तीर्थन घाटी कसोल से 60 किमी दूर एक स्वर्ग की तरह दिखता है। तीर्थन घाटी अपने ग्रेट हिमालयन नेशनल पार्क के लिए भी काफी मशहूर है, जिसे यूनेस्को विरासत स्थल की सूची में शामिल किया गया है। यहां आप जंगलों में घूम सकते हैं, नदी के किनारे कैम्पिंग कर सकते हैं, ट्रैकिंग कर सकते हैं, झरनों या ट्राउट एंगलिंग को एक्सप्लोर कर सकते हैं।

तोश गांव - Tosh Village

तोश समुद्र तल से 2400 मीटर की ऊंचाई पर स्थित तोश नदी के तट पर स्थित एक छोटा सा गांव है। पार्वती घाटी के एक किनारे पर स्थित, तोश कसोल का एक अनोखा डेस्टिनेशन है जो अपनी प्राकृतिक सुंदरता के कारण देश भर से पर्यटकों को आकर्षित करता है। तोश के लिए ट्रेक खीरगंगा के बेस से शुरू होता है, जो घाटी के सबसे सुंदर मार्गों में से एक है। इस जगह की शांत सुंदरता को बयान कर पानी मुश्किल है और यही कारण है कि आपको अपनी कसोल यात्रा में तोश को जरूर शामिल करना चाहिए।

मलाणा गांव - Malana Village

दुनिया के बाकी हिस्सों से अलग मलाणा नाला में एक अकेला गांव है, जिसे एक्सप्लोर करने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। मलाणा या मलाणा गांव के रूप में मशहूर, यह कुल्लू जिले में स्थित है। ये जगह सभी एडवेंचर प्रेमियों के बीच भी काफी प्रसिद्ध है क्योंकि मलाणा का मार्ग अपनी एडवेंचर्स ट्रैकिंग के लिए जाना जाता है। मलाणा में जमदग्नि मंदिर और रेणुका देवी का मंदिर गांव के प्रमुख आकर्षण के रूप में कार्य करते हैं, यहां स्थानीय लोग रोज पूजा अर्चना करने के लिए आते हैं।

नेचर पार्क - Nature Park

नेचर पार्क कसोल में घूमने के लिए खास जगहों में से एक है। शांतिपूर्ण माहौल से घिरे, पार्क पार्वती नदी तक फैला हुआ है, जहां से आप नदी की खूबसूरती को अच्छे से देख सकते हैं। पार्क से नदी का शोर कानों को बेहद सुकून देता है। चर पार्क चीड़ के पेड़ों की छांव के नीचे टहलने और जॉगिंग करने के लिए एक परफेक्ट जगह है। जैसा कि यह स्थान कई लोकप्रिय कैफे के करीब है, तो पर्यटक यहां कुछ विदेशी व्यंजनों का मजा लेने के भी जरूर आते हैं।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.