Hidden Tourist Destination: ये हैं भारत की टॉप पांच टूरिस्ट प्लेस, जिनके बारे में शायद ही जानते हों आप

भारत प्राकृतिक नजारों का भंडार है। समुंदर किनारे शानदार बीच से लेकर ऊंचे पहाड़, नदी झरने, घाटियां, रेगिस्तान और यहां तक कि नमक का भी रेगिस्तान है। लेकिन ज्यादातर सैलानी उन जगहों पर ही घूमना पसंद करते हैं। जो सबसे ज्यादा मशहूर होती है।
Hidden Tourist Destination: ये हैं भारत की टॉप पांच टूरिस्ट प्लेस, जिनके बारे में शायद ही जानते हों आप

भारत प्राकृतिक नजारों का भंडार है। समुंदर किनारे शानदार बीच से लेकर ऊंचे पहाड़, नदी झरने, घाटियां, रेगिस्तान और यहां तक कि नमक का भी रेगिस्तान है। लेकिन ज्यादातर सैलानी उन जगहों पर ही घूमना पसंद करते हैं। जो सबसे ज्यादा मशहूर होती है। लेकिन कुछ रोमांच पसंद करने वाले सैलानी भारत के हर उस हिस्से को देखने की इच्छा रखते हैं।

जो ज्यादातर लोगों की नजरों से छुपी हुई है। आज हम आपको भारत की ऐसी ही जगहों के बारे में बताएंगे। जिनके बारे में बहुत कम सैलानी ही जानते हैं। लेकिन इनके मनोरम दृश्य किसी को भी आकर्षित कर सकते हैं।

मार्बल रॉक्स

मध्य प्रदेश में बहुत सारे टूरिस्ट स्पॉट हैं। जहां सैलानी घूमना पसंद करते हैं। इन दार्शनिक स्थल पर भारत के साथ ही विदेशों से भी पर्यटक आते हैं। कई सारे नेशनल पार्क के साथ ही खजुराओ, सांची, भीमबेटका मशहूर टूरिस्ट स्पॉट हैं। इसके साथ ही मध्य प्रदेश के जबलपुर शहर से करीब 25 किमी की दूरी पर बना है भेड़ाघाट।

जहां पर संगमरमर के चट्टानों से बेहद खूबसूरत क्षेत्र बना है। जहां बहुत कम ही लोग जाते हैं। नर्मदा नदी के तट पर ये संगमरमर का चट्टान खड़ा है। जिसकी ऊंचाई करीब सौ फीट तक होगी। इस चमचमाते आठ किमी के दायरे में फैली चट्टान पर सूर्य की रोशनी का नजारा अद्भुत होता है। जिसे देखने एक बार जरूर जाना चाहिए।

मेघालय का लिविंग ट्री रूट ब्रिज

नॉर्थ ईस्ट भारत में बसे मेघालय में प्राकृतिक नजारों की भरमार है। पहाड़ों से घिरे इस राज्य को बादलों का घर भी कहते हैं। यहां पर्यटक मनोरम दृश्यों की वजह से आते हैं। जिसे चेरापूंजी, एलिफेंटा की गुफाएं, मासिनराम जैसी जगहें शामिल हैं।

इन्हीं के बीच एक खूबसूरत कोना है लिविंग ट्री रूट ब्रिज का। मेघायल के चेरापूंजी में बने इस पेड़ की जड़ों को पुल बनाने के काम में ले लिया गया है। इसका नाम फिक्स इलास्टिक ट्री है। इस पेड़ की लचकदार खासियत को देखकर स्थानीय लोगों ने इससे पुल बना दिया है।

नीडल होल :-

महाराष्ट्र के महाबलेश्वर पर्यटक स्थल काफी मशहूर है। साथ ही इसका धार्मिक महत्व भी है। पहाड़ी खूबसूरती के साथ ही ये जगह एक तीर्थस्थल भी है। महाबलेश्वर के आसपास कई सारे टूरिस्ट स्पॉट हैं।

जिनके बारे में सारे लोग नहीं जानते। इसी में से एक है नीडल होल स्पॉट। इस पहाड़ा की ऊंचाई के प्वाइंट से नीचे का नजारा अद्भुत होता है। जिसे देखने के लिए जाया जा सकता है। यहां पर सुरक्षा का इंतजाम किया गया है।

लोकटक झील

मेघालय के साथ ही मणिपुर राज्य में भी काफी सारे खूबसूरत नजारे हैं। अगर आप नॉर्थ ईस्ट भारत की सैर पर हैं। तो एक बार मणिपुर की इस झील का भी नजारा जरूर लें। लोकटक झील अपने साफ-सुथरे पानी की वजह से जानी जाती हैं। जहां पर तैरते हुए मिट्टी के द्वीप बने हैं। जिसे स्थानीय लोग कुंदी के नाम से जानते हैं।

प्राकृतिक खूबसूरती और अद्भुत नजारों की वजह से इस क्षेत्र को भारतीय सरकार ने संरक्षित क्षेत्र का दर्जा दे रखा है। ये विश्व का एकमात्र तैरता राष्ट्रीय उद्यान है। जिसके साफ पानी के चलते जलीय जीव में काफी मात्रा में रहते हैं। इस झील की दूरी इंफाल से करीब 53 किमी है।

बेलम केव

अगर आप रहस्य और रोमांच पसंद करते हैं। तो आंध्र प्रदेश की बेलम केव को देखने जरूर जाएं। वैसे तो आंध्र प्रदेश में कई सारी गुफाएं हैं। जिसमे बेलम केव सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। इसकी लंबाई 3229 मीटर है।

जिसे सुनते ही पर्यटक रोमांचित हो उठते हैं। अराकू वैली के प्रमुख पर्यटक स्थल में शामिल बेलम केव में अंदर के नजारे अद्भुत हैं। जिनमे चट्टानों की प्राकृतिक कलाकृतियां हर किसी को दंग कर सकती हैं। लेकिन इसं लंबी गुफा के कई हिस्सों में जाने की पाबंदी है।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news