Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय

आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां हैं जो आसानी से हमारे घरों व बाजार में उपलब्ध होती है और हमारे शरीर पर उनका स्वास्थ्य लाभ होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनमें मौजूद प्राकृतिक और औषधीय तत्व हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में उपयोगी होते हैं।

बहुत से लोगों ये नहीं पता होता है कि इम्यूनिटी किसे कहते हैं ? तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसे रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कहते हैं। इम्यून सिस्टम का काम शरीर को किसी बाहरी तत्व जैसे वायरस बैक्टीरिया परजीवी या बीमार करने वाले कारकों से बचाव करना होता है। ये दो तरह की होती है पहला प्राकृतिक इम्यूनिटी और दूसरा अडॉप्टिव इम्यूनिटी। इसके अलावा यह शरीर की स्वस्थ कोशिकाओं को संक्रमित कोशिकाओं से अलग करने का काम करता है।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
कौन सा टेस्ट है बेहतर RAT या RT-PCR : किन बातों का रखें ध्यान, कैसे पता चलता है खतरा कितना बड़ा है ?

इम्यूनिटी कैसे चेक करें -

आमतौर पर अगर किसी का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है वो बाहरी संक्रमणों से बेहतर तरीके से मुकाबला करते हैं। वो जल्दी बीमार नहीं पड़ते हैं। इसके अलावा अगर किसी पता करना है कि हमारी प्रतिरोधक क्षमता कैसी है इस बारे में ब्लड रिपोर्ट से पता कर सकते हैं। मगर इसके अलावा भी शरीर में कई तरह के लक्षण दिखने लगते हैं जिससे आप पता कर सकते हैं कि आपका इम्यूनिटी लेवल कमजोर हो रहा है। वो लक्षण हैं -

  • बहुत जल्दी-जल्दी बुखार-जुकाम हो जाना

  • बार-बार मुँह में छाले वगैरह होना

  • संक्रमण या एलर्जी होना

  • ब्लड रिपोर्ट में विटामिन डी की कमी

  • डार्क सर्कल नजर आना

  • लगातार थकान और आलस रहना

  • ऐसे घाव जो लंबे वक्त तक न भरें

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
कमजोर इम्यूनिटी का कारण बन सकती है ये चीजें , आज ही करें तौबा

इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय

आयुर्वेद में ऐसी कई जड़ी-बूटियां हैं जो आसानी से हमारे घरों व बाजार में उपलब्ध होती है और हमारे शरीर पर उनका स्वास्थ्य लाभ होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनमें मौजूद प्राकृतिक और औषधीय तत्व हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाने में उपयोगी होते हैं। तो आइए जानते हैं इम्यूनिटी बढ़ाने के उपाय के लिए किन-किन चीजों का सेवन फायदेमंद होता है

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
बालों में तेल लगाने के बाद स्टीम करने से होते हैं कई फायदे

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गिलोय

गिलोय को गुडुची और अमृता नाम से भी जाना जाता है। क्योंकि इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट्स भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं जो कि फ्री-रेडिकल्‍स से लड़ने में मदद करते हैं और कोशिकाओं को स्‍वस्‍थ एवं बीमारियों से दूर रखते हैं। इम्यूनिटी पॉवर बढ़ाने के लिए गिलोय (immunity badhane ke tarike) सबसे आसान एवं असरकारी तरीका है।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
जल्दी जागने के कई फायदे हैं लेकिन क्या जल्दी उठने से कोई नुकसान है?

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कच्ची हल्दी

हल्दी को कई बीमारियों को ठीक करने के लिए माना जाता है। मौसम में बदलाव आने के कारण सर्दी या खांसी होने पर हल्दी वाला दूध या चाय लेने की सलाह दी जाती है। इसी तरह, हल्दी में आयुर्वेदिक गुण होते हैं और हल्दी के अर्क में भी इसका उपयोग किया जाता है। कच्ची हल्दी आपके इम्यून सिस्टम को बूस्ट करती है। कच्ची हल्दी का सेवन निश्चित रूप से फायदेमंद है जो बीमारी से दूर रहने के लिए एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
‘कपूर’ से होती हैं कई सारी समस्याएं दूर...बालों को पोषण में भी करे मदद…

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए लौंग

सर्दी-खांसी होने पर लौंग को मुँह में रखने की सलाह दी जाती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि लौंग खांसी की गंभीरता को कम करती है। लौंग में एंटीमाइक्रोबियल और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। यह एंटी वायरल भी है इसलिए यह आपको वायरल बुखार से बचा सकता है। ये पोषक तत्व आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देते हैं और आपके लिए बीमारी से लड़ना आसान बनाते हैं।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
सेंधा नमक है सेहत के लिए रामबाण, लगातार उपयोग करने पर होते हैं ये कमाल के फायदे

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए काली मिर्च

काली मिर्च में विभिन्न प्रकार के खनिज और विटामिन भी होते हैं। यह विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन् इ , विटामिन के और विटामिन बी 6 से भरपूर है। इन विटामिनों के अलावा, इसमें राइबोफ्लेविन, थायमिन, पोटेशियम, सोडियम, फोलेट, विटामिन और नियासिन भी होते हैं। इन कारणों से, स्वाद के साथ-साथ कालीमिर्च को स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद बताया गया है । ये सभी पोषक तत्व आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
Benefits of Amla : आँवला के फायदे

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए तुलसी

तुलसी में कई औषधीय तत्व होते हैं। इसीलिए तुलसी को अमूल्य पौधे या पवित्र पौधे का दर्जा मिला है। तुलसी के पत्तों में विटामिन, कैल्शियम , आयरन, फेरोफिल, जिंक, ओमेगा 3. मैग्नीशियम, मैंगनीज होता है। जो आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करता है। तुलसी के पत्तों में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। यह निश्चित रूप से संक्रमण के जोखिम को कम करता है। तुलसी के पत्तों को नियमित रूप से चबाने या इसका रस निकालने से आपका शरीर स्वस्थ रहता है।

Covid Health Tips : इम्यूनिटी क्या है? इम्युनिटी कैसे चेक करें और इम्युनिटी बढ़ाने के उपाय
Benefits of Cucumber Water: खीरे के पानी के अदभुद फ़ायदे

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए शहद

शहद के रोगाणुरोधी गुणों के कारण, इसे कीटाणुओं को मारने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। यह शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में भी मदद करता है। आप चाय में शहद का उपयोग कर सकते हैं या सर्दी और खांसी दवा के रूप में चाट सकते हैं।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए मुनक्का

मिठास और कई तरह के पौष्टिक तत्व से भरपूर मुनक्का शरीर में ऊर्जा बढ़ाने से लेकर हाजमा तक ठीक करने में मददगार होता है। आयुर्वेद में मुनक्का के बारे में काफी कुछ बताया गया है। इसमें कहा गया है कि मुनक्का कई गंभीर बीमारियों को जड़ से खत्म करने का काम करता है। अगर आप कोई ऐसी चीजें खा रहे हैं जिसकी तासीर गर्म होती है तो उसके साथ मुनक्का खाने से संतुलन बन जाता है।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए दालचीनी

दालचीनी न केवल खाने का स्वाद बढ़ाती है बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी वरदान है। इसलिए डॉक्टर भी दालचीनी खाने की सलाह देते हैं। दालचीनी में जीवाणुरोधी गुण होते हैं। ये आपको बैक्टीरिया से दूर रखते हैं। इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए दालचीनी को चाय में उपयोग करने के लिए भी कहा जाता है। इसलिए, संक्रमण को रोकने के लिए दालचीनी को आयुर्वेदिक काढ़े में होना ही चाहिए।

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए गुड़

गुड़ स्वाद में जितना अच्छा लगता है सेहत में उतना ही लाजवाब होता है। गुड़ खाने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है, जिससे सर्दी के मौसम में बीमार पड़ने की संभावना कम हो जाती है। इसीलिए काढ़े या चाय में भी चीनी की जगह गुड़ का ही सेवन करना चाहिए।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news