अमेरिका: जो बाइडेन ने कोवैक्स के लिए 2 अरब डॉलर देने का किया ऐलान

अमेरिका: जो बाइडेन ने कोवैक्स के लिए 2 अरब डॉलर देने का किया ऐलान

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन समर्थित पहल के अन्तर्गत कोवैक्स के लिए 2 अरब डॉलर देने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने दूसरों को भी इस ओर कदम बढ़ाने का आग्रह किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन समर्थित पहल के अन्तर्गत कोवैक्स के लिए 2 अरब डॉलर देने की घोषणा की है। साथ ही उन्होंने दूसरों को भी इस ओर कदम बढ़ाने का आग्रह किया है। इस पहल का उद्देश्य दुनिया भर में टीकों की समान पहुंच सुनिश्चित करना है।

अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा जारी एक प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार, बाइडेन ने कहा कि मैं घोषणा कर रहा हूं कि संयुक्त राज्य अमेरिका कोवैक्स (कोविड-19 वैक्सीन ग्लोबल एक्सेस) के लिए 2 अरब डॉलर देने का संकल्प व्यक्त कर रहा है।

साथ ही, अतिरिक्त 2 अरब डॉलर देने के वादे के साथ दूसरों को भी कदम आगे बढ़ाने का आग्रह कर रहा हूं।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने शुक्रवार को जी-7 नेताओं के साथ 2021 वर्चुअल म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन में बातचीत की। बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति के रूप में मेरा पहला राष्ट्रीय सुरक्षा ध्येय कोविड-19 को हराने और अगली महामारी के लिए बेहतर रोकथाम व तैयारी करने के लिए स्वास्थ्य एवं मानवीय प्रतिक्रियाओं को बढ़ाने पर केंद्रित है।

उन्होंने आगे कहा कि ट्रांस-अटलांटिक एलायंस एक मजबूत नींव है जिस पर हमारी सामूहिक सुरक्षा और हमारी साझा समृद्धि बनी है। यूरोप और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच साझेदारी..उन सभी बातों की आधारशिला बनी रहनी चाहिए जो हमें 21वीं सदी में हासिल होने की उम्मीद है।

नाटो एलायंस के बारे में बाइडेन ने कहा कि अमेरिका रोम से रीगा तक - साझा चुनौतियों से निपटने के लिए हमारे यूरोपीय संघ के भागीदारों और महाद्वीप भर की राजधानियों के साथ मिलकर काम करेगा। हम पूरे यूरोप में शांति के लक्ष्य को समर्थन जारी रखना चाहते हैं।

बाइडेन ने "वैश्विक अस्तित्व संकट" की चेतावनी देते हुए अमेरिका के यूरोपीय सहयोगियों से जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए प्रतिबद्धताओं को दोगुना करने का आग्रह किया।

वाशिंगटन के औपचारिक रूप से पेरिस समझौते पर लौटने के कुछ ही घंटों बाद बाइडेन ने कहा कि हम अब देरी नहीं कर सकते हैं या जलवायु परिवर्तन के मुद्दे पर बहुत कुछ कर सकते हैं।

बाइडेन ने कहा कि कोविड-19 महामारी एक ऐसे मुद्दे का उदाहरण है जिसे वैश्विक सहयोग की आवश्यकता थी। उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन के सुधार और संयुक्त राष्ट्र प्रणाली के निर्माण का आह्वान किया जो जैविक खतरों पर केंद्रित है और तेजी से कार्रवाई शुरू कर सकता है।

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news