Dance Deewane Juniors Winner: 8 साल के आदित्य पाटिल बने विजेता, ट्रॉफी के साथ मिले इतने लाख रुपए

आदित्य पाटिल को पुरस्कार के तौर पर एक ट्रॉफी और 20 लाख रुपये का चेक मिला है. ईनाम की राशि जज नीतू कपूर और मर्जी पेस्टनजी ने स्पेशल गेस्ट आमिर खान ने आदित्य को सौंपी.
Dance Deewane Juniors Winner: 8 साल के आदित्य पाटिल बने विजेता, ट्रॉफी के साथ मिले इतने लाख रुपए

डांसिंग रियलिटी शो ‘डांस दीवाने जूनियर्स’ (Dance Deewane Juniors) के पहले सीजन के विनर का खुलासा रविवार रात हुआ. 8 साल के आदित्य पाटिल शो के पहले सीजन के विजेता बने हैं. लगभग तीन महीने चले इस शो के ग्रैंड फिनाले में मेकर्स ने आदित्य को शो का विजेता घोषित किया. आदित्य के साथ प्रतीक कुमार नायक और गीत कौर बग्गा शो के फाइनलिस्ट थे. 13 हफ्ते के टफ कंपीटिशन, कई अद्भुत परफॉर्मेंस और कई फेस ऑफ के बाद आदित्य ‘डांस दीवाने जूनियर्स’ के पहले सीजन का विजेता बने हैं.

आदित्य पाटिल को पुरस्कार के तौर पर एक ट्रॉफी और 20 लाख रुपये का चेक मिला है. ईनाम की राशि जज नीतू कपूर और मर्जी पेस्टनजी ने स्पेशल गेस्ट आमिर खान (Aamir Khan) ने आदित्य को सौंपी. आमिर यहां अपनी अपकमिंग फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ के प्रचार के लिए आए थे. इस दौरान आमिर ने भी कई गानों पर परफॉर्मेंस दी.

8 साल के आदित्य पाटिल ने ‘डांस दीवाने जूनियर्स’ में अपने डांस परफॉर्मेंस से शानदार शुरुआत की और सीजन के सबसे होनहार दावेदारों में से एक बन गए. शो में उनके मेंटर प्रतीक उटेकर थे, जिन्होंने उन्हें कोरियोग्राफ और डायरेक्ट किया था. आदित्य और प्रतीक की शो में काफी तारीफें हुई हैं. आदित्य ने अपनी जबरदस्त परफॉर्मेंस ऑडियंस के दिल जीते हैं.

आदित्य ने पूरा किया अपने दादा का सपना

आदित्य पाटिल विजेता घोषित होने पर बेहद खुश थे. पिंकविला को दिए इंटरव्यू में उन्होंने बताया, “मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं इस शो के विजेता के रूप में उभरूंगा. मेरे लिए जीतना मेरे दादाजी का सपना था और मैं बहुत खुश हूं कि मैं उनके सपने को पूरा कर सका. डांस दीवाने जूनियर्स की जर्नी मेरे लिए बहुत यादगार रही है और इसने मुझे बहुत सी नई चीजें सिखाई हैं.”

आदित्य ने जजों के प्रति जताया आभार

आदित्य पाटिल ने कहा, “मैं अपने परिवार, दोस्तों, नीतू मां को धन्यवाद देना चाहता हूं. मैं, नोरा मैम, मर्जी सर और मेरे कैप्टेन प्रतीक उटेकर मुझे गाइड करने के लिए हमेशा मौजूद रहे हैं. मैं उन सभी का आभारी हूं. इस फेज ने मेरा आत्मविश्वास बढ़ाया है, जो मुझे दुनिया जीतने के लिए प्रेरित करेगा. मैं न केवल अपने लिए बल्कि अपने माता-पिता और दादा-दादी के लिए यह खिताब जीतना चाहता था.”

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news