vikram mastal
vikram mastal
इडियट बॉक्स

हनुमान का रोल विक्रम मस्तल को यूं ही नहीं मिला...हैरान करनेवाली है लंबे संघर्ष की कहानी..

विक्रम मस्तल को 'रामायण' का हनुमान बनने से पहले पूरे डेढ़ साल बहुत परेशानी और संघर्ष का सामना किया था. विक्रम के इस किरदार को मिलने से पहले के कुछ अनजाने किस्से और रामायण के सफर की कहानी काफी दिलचस्प है.

Yoyocial News

Yoyocial News

कहते हैं की हमारे आज के संघर्ष हमें कल की कठिनाइयों से लड़ने की ताक़त देते है. अभिनेता विक्रम मस्तल यानी आनंद सागर के सीरियल 'रामायण' के हनुमान की कहानी भी कुछ ऐसी ही है. उन्होंने हनुमान बनने से पहले पूरे डेढ़ साल बहुत परेशानी और संघर्ष का सामना किया था.

हनुमान और उनके किरदार के लिए अपनी कद काठी पर मेहनत की कहानी सब जानते हैं लेकिन विक्रम के इस किरदार को मिलने से पहले के कुछ अनजाने किस्से और रामायण के सफर की कहानी काफी दिलचस्प है.

विक्रम बताते हैं कि "एक नए एक्टर के पास कोई विकल्प नहीं होता और मेरा भी कुछ ऐसा ही हाल था. मैंने अच्छे रोल्स के लिए डेढ़ साल तक बहुत हाथ पाँव मारे. सबसे ज्यादा समस्या थी पैसों की, लेकिन हनुमान के किरदार ने उस समस्या का भी निवारण कर दिया. मुझे वो पैसे मिले जिससे मैं इस शहर में अपना गुज़ारा कर पाया. अगर आप मुंबई में अपने एक रोल के पैसों से 2-3 साल काट लो तो इसका मतलब है कि वो रोल वाकई में बहुत बेहतरीन था. लेकिन इस फल को पाने के लिए मैंने बहुत मेहनत भी की थी.”

हनुमान अपने आप में एक बेहद सशक्त किरदार हैं, जो ताकत और भक्ति का प्रतीक हैं और इसी विचार के साथ विक्रम ने इस किरदार के साथ जुड़ी अपनी आस्था और सफर को बांटा. उन्होंने बताया, "मैं तो मेघनाथ के किरदार के ऑडिशन के लिए गया था लेकिन कास्टिंग डायरेक्टर ने मुझे हनुमान की स्क्रिप्ट थमा दी और मैंने वहां पर हनुमान के डायलॉग्स बोल दिए. जब मेरा हनुमान के रोल के लिए चयन हो गया तो मुझे ख़ुशी के साथ अपने दुबले पतले शरीर की फ़िक्र हुई. मुझे तैयारी के लिए 6 महीने दिए गए और उस दौरान प्रोड्यूसर आनंद सागर ने आर्थिक रूप से मदद की. जिससे मैं हनुमान जी के किरदार के लिए बॉडी बना पाया.”

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news