'नेपोटिज्म इन बॉलीवुड' के ऑनलाइन सर्च में 2000 फीसदी की वृद्धि
मल्टीप्लेक्स

'नेपोटिज्म इन बॉलीवुड' के ऑनलाइन सर्च में 2000 फीसदी की वृद्धि

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के असामयिक निधन के बाद बॉलीवुड में प्रचलित खेमेबाजी को लेकर सवाल उठने लगे. भाई-भतीजावाद या नेपोटिज्म को लेकर भी बहस छिड़ गई और यह अब भी जारी है.

Yoyocial News

Yoyocial News

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (sushant singh rajput) के असामयिक निधन के बाद बॉलीवुड में प्रचलित खेमेबाजी को लेकर सवाल उठने लगे. भाई-भतीजावाद या नेपोटिज्म को लेकर भी बहस छिड़ गई और अब भी जारी है। हाल ही में हुए एक अध्ययन में यह पता चला है कि 14 जून को सुशांत के निधन के बाद 15 जून को नेपोटिज्म इन बॉलीवुड इस कीवर्ड के सर्च में 2000 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई।

सेमरश द्वारा किए गए एक अध्ययन से इस बात का पता चला कि मई 2019 से जून 2020 तक कितनी बार नेपोटिज्म शब्द को ऑनलाइन लोगों द्वारा खोजा गया। इसमें यह दशार्या गया कि इस अवधि के दौरान इसे हर महीने औसतन 62,458 बार खोजा गया।

नतीजे से यह पता चला कि सुशांत सिंह के निधन के बाद इसे सर्च करने की दर में स्वाभाविक रूप से ही कहीं अधिक वृद्धि हुई। हालांकि इस वृद्धि के बाद इसे खोजने की दर में गिरावट भी आई। 15-16 जून को इस कीवर्ड को खोजे जाने की संख्या औसत से केवल 153 प्रतिशत अधिक थी।

अध्ययन में इस बात का भी पता लगाया गया कि माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर सुशांत की मौत का क्या प्रभाव पड़ा और यह जानने के लिए ट्विटर के डेटा पर भी गौर फरमाया गया। हैशटैगनेपोटिज्मबॉलीवुड, हैशटैगबॉलीवुडब्लॉक्डसुशांत हैशटैगजस्टिसफॉरसुशांतराजपूत और हैशटैगकरणजौहरइजबुली जैसे हैशटैग का इस्तेमाल भी लोगों ने अपने ट्वीट में अधिकाधिक किए।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news