rhea chakraborty, shibani dandekar
rhea chakraborty, shibani dandekar
मल्टीप्लेक्स

रिया चक्रवर्ती के सपोर्ट में उतरीं फरहान अख्तर की गर्लफ्रेंड शिबानी दांडेकर, बोलीं, 'जिंदादिल, ब्राइट स्पार्क हैं वो...'

बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर की गर्लफ्रेंड शिबानी दांडेकर भी रिया को सपोर्ट कर रही हैं। शिबानी ने सोशल मीडिया पर अपना एक बयान जारी किया है, जिसमें उन्होंने मीडिया के ऊपर निशाना साधा है। और साथ ही कहा कि मैं हमेशा रिया के साथ खड़ी रहूंगी।

Yoyocial News

Yoyocial News

सुशांत सिंह राजपूत (sushant singh rajput) केस में आम जनता और कई मीडिया चैनलों द्वारा रिया चक्रवर्ती को दोषी माना जा रहा है। रिया को सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया जा रहा है, और उन्हें मीडिया ट्रायल का शिकार भी होना पड़ रहा है।

मीडिया द्वारा रिया को ब्लेम करने पर कई बॉलीवुड सितारे उनके सपोर्ट में उतरे हैं। स्वरा भास्कर, तापसी पन्नू और विद्या बालन के बाद अब एक और हस्ती का नाम जुड़ गया है।

बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर की गर्लफ्रेंड शिबानी दांडेकर (shibani dandekar) भी रिया को सपोर्ट कर रहीं हैं। शिबानी ने सोशल मीडिया पर अपना एक बयान जारी किया है, जिसमें उन्होंने मीडिया के ऊपर निशाना साधा है। और साथ ही कहा कि मैं हमेशा रिया के साथ खड़ी रहूंगी।

दरअसल, शिबानी ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा चौड़ा पोस्ट शेयर किया है। पोस्ट को शेयर करने के साथ ही शिबानी ने कैप्शन में लिखा, "मैं तुम्हारे साथ हमेशा खड़ी हूं और तुम्हारी ओर से खड़ी हूं।"

पोस्ट की बात करें तो शिबानी ने लिखा, "मैं रिया चक्रवर्ती को तब से जानती हूं, जब वह 16 साल की थीं, वाइब्रेंट, मजबूत, जिंदादिल और ब्राइट स्पार्क की तरह...जीवन से भरी हुई। बीते कुछ महीनों में मैं उनकी और उनके परिवार की पर्सनैलिटी का इन सबसे उल्टा साइड देख रही हूं (ऐसे दयालु और गर्मजोशी से मिलने वाले जो आपने नहीं देखे होंगे) ऐसा दुख झेल रहे है, जो कोई सोच भी नहीं सकता। हमने देखा है कि मीडिया किस तरह से गिद्धों जैसा व्यवहार कर रहा है जैसे किसी डायन के शिकार पर हों। एक बेगुनाह परिवार पर इल्जाम लगा रहे हैं और टूट जाने की हद तक टॉर्चर कर रहे हैं।"

"उसके आधारभूत मानव अधिकार भी छीन लिए गए क्योंकि मीडिया तो जज, जूरी और जल्लाद की भूमिका में है। हमने पत्रकारिता की मौत और मानवता का भयावह रूप देख देखा है! उसका गुनाह क्या था? उसने एक लड़के को प्यार किया, उसके खराब दिनों में उसकी देखभाल की, उसके साथ रहने के लिए अपनी जिंदगी रोक दी और जब उसने फांसी लगा ली तो हम क्या बन गए?"

"मैंने खुद देखा है कि इन सबसे उसकी मां की सेहत कैसे खराब हो गई, 20 साल तक देश की सेवा करने वाले उसके पिता पर इसका कैसे असर पड़ा है, कितनी जल्दी उसके भाई को बड़ा होना पड़ा और कितना मजबूत होना पड़ रहा है। मेरी रिया तुम ताकतवर हो और बहुत झुकने वाली हो। तुम जैसी इंसान हो और जैसे जानते हुए कि सच तुम्हारे साइड है, तुम लड़ रही हो, मेरे मन में तुम्हारे लिए बहुत प्यार और आदर है। मुझे बहुत दुख है कि तुम्हें इन सबसे गुजरना पड़ा। मुझे दुख है कि हम बेहतर नहीं थे।"

"मुझे दुख है कि बहुत सारे लोगों ने तुमको निराश किया, शक किया, जब तुम्हें सबसे ज्यादा जरूरत थी तो तुम्हारे साथ नहीं थे। मुझे दुख है कि तुमने जीवन में जो सबसे अच्छा काम किया (सुशांत की देखभाल करना) उसने तुम्हें जीवन का सबसे खराब अनुभव दिया। मैं तुम्हारे साथ हमेशा हूं।"

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news