जॉन अब्राहम ने ई-टिकटिंग प्लेटफॉर्म के CEO को लिखा पत्र, जाने क्या है पूरा माजरा

PETA इंडिया के लिए पूर्व पर्सन ऑफ द ईयर रह चुके जॉन ने रेम्बो सर्कस की टिकट बिक्री के संबंध में लिखा, जिसे हाल ही में पेटा इंडिया की जांच के निष्कर्षों के आधार पर पुणे शहर की पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गई थी।
जॉन अब्राहम ने ई-टिकटिंग प्लेटफॉर्म के CEO को लिखा पत्र, जाने क्या है पूरा माजरा

बॉलीवुड अभिनेता जॉन अब्राहम ने हाल ही में एक लोकप्रिय ई-टिकटिंग प्लेटफॉर्म के सीईओ को एक पत्र भेजा है, जिसमें सर्कस में टिकटों की बिक्री को समाप्त करने की ओर उनका ध्यान आकर्षित किया गया है।

पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स (पेटा) इंडिया के लिए पूर्व पर्सन ऑफ द ईयर रह चुके जॉन ने रेम्बो सर्कस की टिकट बिक्री के संबंध में लिखा, जिसे हाल ही में पेटा इंडिया की जांच के निष्कर्षों के आधार पर पुणे शहर की पुलिस द्वारा प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

बुकमाईशो के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी आशीष हेमराजनी को लिखते हुए, अटैक: पार्ट 1 स्टार ने पूर्व से सर्कस के टिकट बिक्री संचालन को समाप्त करने का आग्रह किया, जब इस जांच से सामने आया था कि सर्कस द्वारा कुत्तों को अपंजीकृत गतिविधियां जैसे हुप्स के बीच से कूदना और झंडे के ऊपर चढ़ने के लिए मजबूर किया जाता है। यहां एक कलाकार को मछली को पानी से बाहर निकाल कर अपने दांतों के बीच दबाकर रखते, उन्हें जिंदा निगल जाने जैसा करतब दिखाते और फिर उन्हें पानी से भरे जार में वापिस थूकते भी देखा गया।

पत्र में कहा गया है, दुनियाभर के अधिकांश सर्कसों द्वारा केवल इच्छुक मानव कलाकारों का ही प्रयोग किया जाता है। जानवरों का मनोरंजन साधनों के रूप में प्रयोग करके इन संवेदनशील प्राणियों को अपना असल प्राकृतिक जीवन जीने से महरूम रखा जाता है और इन्हें अक्सर अनावश्यक दर्द एवं पीड़ा का सामना करना पड़ता है। इन्हें बेहद क्रूर परिस्थितियों में रखकर और शारीरिक रूप से शोषित करके डरवाने एवं भ्रामक करतब करने हेतु मजबूर किया जाता है।

पेटा इंडिया ने नोट किया कि बुकमाईश ने पहले अजंता सर्कस को भी बढ़ावा दिया था, जिसके खिलाफ भारतीय पशु कल्याण बोर्ड ने हाल ही में आवश्यक प्रमाणीकरण के बिना जानवरों का उपयोग करने के लिए कार्रवाई की मांग की थी।

जॉन ने अपने पत्र को यह कहते हुए समाप्त किया, मुझे आशा है कि आप क्रूरता का पक्ष नहीं लेंगे और बुकमाईशो जानवरों का उपयोग करने वाले सर्कस के टिकटों को बढ़ावा देने, बेचने या बिक्री की अनुमति नहीं देने की नीति को लागू करके सही काम करेगा।

जॉन अब्राहम ने इससे पहले पेटा इंडिया के साथ मिलकर मुंबई में मनोरंजन हेतु जबरन नचाए जाने वाले बंदरों के खिलाफ आवाज उठायी, गोवा के अधिकारियों से सूअरों की अवैध हत्या के खिलाफ कार्यवाही करने का अनुरोध किया एवं लोगों को पक्षियों को कैद न करने हेतु प्रोत्साहित किया।

Keep up with what Is Happening!

Related Stories

No stories found.