paresh rawal
paresh rawal
मल्टीप्लेक्स

परेश रावल बने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के चेयरमैन, पद्मश्री और नेशनल अवॉर्ड से नवाजे जा चुके हैं 'बाबूराव'

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बॉलीवुड के बेहतरीन एक्टर और लोकसभा सांसद रह चुके परेश रावल को नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का चेयरमैन बनाया। परेश पूरे चार साल के लिए इस पद पर अपना कार्यभार संभालेंगे।

Yoyocial News

Yoyocial News

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बॉलीवुड के बेहतरीन एक्टर और लोकसभा सांसद रह चुके परेश रावल को नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा का चेयरमैन बनाया । परेश पूरे चार साल के लिए इस पद पर अपना कार्यभार संभालेंगे। परेश रावल 2014 में भारत सरकार द्वारा भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए पदमश्री पुरस्कार से भी नवाजे गए हैं। साथ ही दो फिल्मों के लिए उन्हें भारत सरकार द्वारा नेशनल अवॉर्ड भी मिला है।

कई कलाकार ने परेश रावल को चेयरमैन बनाने की खबर को बेहतरीन कदम बताते हुए इस पर खुशी जताई। परेश से पहले एनएसडी के चेयरमैन डॉ अर्जुन देओ चरण थें, जो राजस्थानी कवि, थियेटर डायरेक्टर के रूप में भी जाने जाते हैं। इससे पहले 2001 में बॉलीवुड एक्टर अनुपम खेर को भी एनएसडी के चेयरमैन के पद पर नियुक्त किया गया था।

वैसे बता दें, परेश रावल को 1994 में नेशनल फिल्म अवॉर्ड फॉर बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर 'वो छोकरी' और 'सर' फिल्मों के लिए मिला। वहीं परेश रावल को केतन मेहता की 'सरदार' फिल्म में फ्रीडम फाइटर वल्लभभाई पटेल के किरदार के लिए नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर पहचान मिली। एक्टर, कॉमेडियन, प्रोड्यूसर और अब पोलीटीशीअन के रूप में भी परेश बखूबी जाने जाते हैं।

मुंबई में जन्में परेश रावल ने अपने करियर की शुरुआत 1985 की फिल्म 'अर्जुन' में सपोर्टिंग रोल से की। फिर 1986 में आई फिल्म 'नाम' से परेश को फिल्मों में उनकी पहचान मिलनी शुरू हुई। परेश ने अपने करियर में नेगेटिव किरदार के साथ साथ कॉमेडी रोल में भी अपना खूब छाप छोड़ा हैं। वहीं 2012 में आई फिल्म 'ओह माय गॉड' से उन्होंने अपने प्रोडक्शन हाउस की शुरुआत की।

परेश की अपकमिंग फिल्मों की बात करें तो वह जल्द ही कूली नंबर 1, हंगामा 2, तूफान, आंख मिचौली और हेरा-फेरी 3 जैसी फिल्मों में नजर आएंगे।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news