shweta singh kirti, sushant singh rajput
shweta singh kirti, sushant singh rajput
मल्टीप्लेक्स

हॉलीवुड में हटाई गई सुशांत की होर्डिंग, बहन श्वेता बोलीं, 'इसमें 'पेड पीआर' का हाथ'

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के लिए न्याय की मुहिम के तहत हॉलीवुड में लगी होर्डिंग अब हटा दी गई है। सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने दावा किया है कि इसके पीछे पैसे देकर पब्लिक रिलेशन (पेड पीआर) करवाने वालों का हाथ है।

Yoyocial News

Yoyocial News

बॉलीवुड के दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (sushant singh rajput) के लिए न्याय की मुहिम के तहत हॉलीवुड में लगी होर्डिग अब हटा दी गई है। सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने दावा किया है कि इसके पीछे पैसे देकर पब्लिक रिलेशन (पेड पीआर) करवाने वालों का हाथ है। श्वेता ने इंस्टाग्राम पर अमेरिकी बिलबोर्ड कंपनी से मेल के जरिए हुए संवाद का स्नैपशॉट साझा किया है।

इस मेल में कंपनी ने कहा, "टीम ने इस बारे में खोजबीन नहीं की थी कि यह कैसा अभियान है। उनका इंटरप्रिटेशन है कि यह उस महिला को बदनाम करने का अभियान है जो सुशांत के साथ जुड़ी थीं।"

हालांकि कंपनी ने उस महिला का नाम नहीं लिया है, लेकिन सवाल में 'महिला' से मतलब सुशांत की प्रेमिका रिया चक्रवर्ती लगती हैं। इसी तरह 'स्मीयर कैंपेन' से मतलब एफआईआर को लेकर हो सकता है, जो दिवंगत अभिनेता के परिवार ने रिया और उनके परिवार के खिलाफ दायर की है, जिसमें सुशांत की आत्महत्या के लिए जिम्मेदार होने समेत कई और आरोप लगाए गए हैं।

मेल में आगे कहा गया, "(कंपनी का नाम छुपाया गया है) कंपनी अभियान में किसी भी तरह की भागीदारी को खत्म करती है। साथ ही आपको बाकी दिनों का पैसा वापस कर दिया जाएगा। धन्यवाद।"

श्वेता ने जवाब दिया, "ठीक है। इस मामले में मैं 1-6 सितंबर तक के पैसे वापस दिए जाने की उम्मीद करती हूं। साथ ही मुझे लगता है कि आप इस बयान का रिकॉर्ड भी देंगे, ताकि मैं उसे उन दानदाताओं के साथ साझा कर सकूं और उन्हें स्पष्टीकरण दे सकूं कि अब वहां बिलबोर्ड क्यों नहीं है। धन्यवाद।"

इन स्नैपशॉट को कैप्शन देते हुए श्वेता ने लिखा, "ऐसा लगता है कि यह पेड पीआर हर जगह पहुंच गया है। हॉलीवुड बिलबोर्ड कंपनी ने कह दिया है कि वे अब बिलबोर्ड को लगा नहीं रहने देंगे। जबकि बिलबोर्ड पर लिखे शब्द केवल निष्पक्ष जांच और न्याय की मांग करते हैं।"

बता दें कि सुशांत के लिए न्याय की मुहिम चलाने वाले बिलबोर्ड न्यू जर्सी और शिकागो सहित पूरे अमेरिका में लगाए गए थे।

सुशांत 14 जून को अपने बांद्रा के फ्लैट में मृत पाए गए थे। उनकी रहस्यमयी मौत की जांच अब सीबीआई कर रही है।

Keep up with what Is Happening!

Best hindi news platform for youth
www.yoyocial.news