आज के जमाने में बिना कम्प्टीशन और स्ट्रेस के कोई भी इंडस्ट्री नहीं है: तापसी पन्नू

अभिनेत्री तापसी पन्नू का कहना है कि आज के जमाने में कोई भी इंडस्ट्री ऐसी नहीं है, जहां प्रतिस्पर्धा और तनाव नहीं है। बॉलीवुड में कितनी भागा-दौड़ है और इसका क्या असर है?
आज के जमाने में बिना कम्प्टीशन और स्ट्रेस के कोई भी इंडस्ट्री नहीं है: तापसी पन्नू

अभिनेत्री तापसी पन्नू का कहना है कि आज के जमाने में कोई भी इंडस्ट्री ऐसी नहीं है, जहां प्रतिस्पर्धा और तनाव नहीं है। बॉलीवुड में कितनी भागा-दौड़ है और इसका क्या असर है? इस पर बात करते हुए तापसी ने आईएएनएस को बताया, "यह किसी भी और इंडस्ट्री की ही तरह बेहद प्रतिस्पर्धात्मक इंडस्ट्री है। फर्क बस इतना है कि हमारी प्रतिस्पर्धा कैमरे के सामने दिख जाती है और लोग जज करने लगते हैं। इसलिए यहां तनाव कुछ ज्यादा है, लेकिन इस इंडस्ट्री में आने वाला हर कोई इससे वाकिफ है।"

वह आगे कहती हैं, "ऐसा नहीं है कि किसी ने हमें यहां जबरदस्ती धकेल दिया है। हम जानते हैं कि हमें कैमरे के सामने आना है, लोग हमारे बारे में जानेंगे, वे हमे लेकर और अधिक जानना चाहेंगे, तो हम जब इस इंडस्ट्री में कदम रखते हैं, तो हमें यह सब मालूम रहता है। लेकिन अब दर्शकों से बिना शर्त प्यार पाने के लिए एक कीमत तो चुकानी पड़ेगी ही। आजकल तनाव हर प्रतिस्पर्धी इंडस्ट्री का हिस्सा है।"

वह आखिर में कहती हैं, "हर इंडस्ट्री में कम्प्टीशन है। आज के जमाने में स्ट्रेस और कम्प्टीशन के बिना कोई इंडस्ट्री है ही नहीं।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news