बिहार में मिले 9,863 मरीज, नीतीश ने कहा, 'लॉकडाउन का दिख रहा असर'

बिहार में लॉकडाउन के बाद कोरोना संक्रमण की रफ्तार को लगाम लगी है। बुधवार को राज्य में 9,863 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है, जिससे राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 99,623 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 74 संक्रमितों की मौत हुई है।
बिहार में मिले 9,863 मरीज, नीतीश ने कहा, 'लॉकडाउन का दिख रहा असर'

बिहार में लॉकडाउन के बाद कोरोना संक्रमण की रफ्तार को लगाम लगी है। बुधवार को राज्य में 9,863 कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है, जिससे राज्य में सक्रिय मरीजों की संख्या 99,623 पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में 74 संक्रमितों की मौत हुई है। इस बीच, मुख्यमंत्री नीतीष कुमार ने कहा कि लॉकडाउन के बाद मरीजों की संख्या में कमी प्रारंभ हो गई है। उन्होंने लोगों से धैर्य और साहस बनाए रखने की अपील की है।

राज्य में बुधवार को 9,863 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है। पटना में सर्वाधिक 977 नए संक्रमित मिले हैं। पटना सहित 6 जिलो में 400 से अधिक नए संक्रमण के मामले मिले हैं। बेगूसराय में 409, कटिहार में 478, मुजफ्फरपुर में 506, नालंदा में 523 और समस्तीपुर में 487 नए संक्रमित मिले।

इससे पहले राज्य में मंगलवार को एक दिन में 10,920 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई थी जबकि 72 लोगों की मौत हुई थी।

राज्य का रिकवरी रेट बुधवार को 83.43 प्रतिशत दर्ज किया गया।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा बुधवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य में पिछले 24 घंटे में 1,11,740 नमूनों की जांच की गई। इस दौरान 12,265 लोग कोरोना संक्रमण से मुक्त हो कर अपने घर वापस गए हैं।

राज्य में पिछले 24 घंटे के दौरान 74 संक्रमितों की मौत हुई है, जिससे राज्य में मरने वालों की संख्या बढ़कर 3,503 तक पहुंच गई है। राज्य में फिलहाल सक्रिय मरीजों की संख्या 99,623 हो गई है।

इस बीच, मुख्यमंत्री नीतीष कुमार ने सोशल मीडिया पर एक संदेश जारी कर कहा कि आज दुनिया की तरह देश के लोग भी कोरोना से जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना की दूसरी लहर में कोरोना महामारी से राहत पहुंचाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य में पांच मई से 15 मई तक लॉकडाउन तक लगाया गया है। लॉकडाउन में मरीजों की संख्या में कमी प्रारंभ हो गई है। उन्होंने कहा कि प्रतिदिन अब एक लाख से अधिक नमूनों जांच की जा रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य के अस्पतालों में दवाओं के साथ-साथ आधारभूत संरचनाओं की व्यवस्था की जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा, "कोरोना की पहली लहर का बिहार ने ²ढ़ता और साहस से सामना किया था। इस बार भी ²ढ़ इच्छाशक्ति और सकारात्मक सोच के साथ बिहारवासी कोरोना के खिलाफ इस जंग में सफल होंगे। आप अपना हौसला और धैर्य बनाए रखे, जागरूक रहे और डॉक्टरों के सलाह का पालन करें।"

Keep up with what Is Happening!

No stories found.
Best hindi news platform for youth. हिंदी ख़बरों की सबसे तेज़ वेब्साईट
www.yoyocial.news